जिलों की मांग के अनुरूप सुनिश्चित होगी खाद की उपलब्धता : एपीसी केके सिंह
जिलों की मांग के अनुरूप सुनिश्चित होगी खाद की उपलब्धता : एपीसी केके सिंह
मध्य-प्रदेश

जिलों की मांग के अनुरूप सुनिश्चित होगी खाद की उपलब्धता : एपीसी केके सिंह

news

विदिशा, 14 अक्टूबर (हि.स.)। प्रदेश के कृषि उत्पादन आयुक्त (एपीसी) केके सिंह ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कृषि आदान कार्यों की समीक्षा की। भोपाल एवं होशंगाबाद संभाग के जिलों की संयुक्त बैठक में एपीसी केके सिंह ने कहा कि जिलों की मांग के अनुरूप खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाएगी। किसानों को रबी सीजन के दौरान खाद की आपूर्ति समय सीमा पूर्व कराई जाएगी। बैठक में रबी सीजन के लिए खाद, बीज की उपलब्धता के अलावा किसानो की आमदनी बढ़ाने के लिए अन्य विभागों के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं में हुए नवाचार से अगवत कराया गया। इसके अलावा बैठक में दोनों संभाग अंतर्गत निर्मित अद्योसंरचनाएं, आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत वन डिस्ट्रिक, वन प्रोडक्शन (ओडीओपी) अंतर्गत जिलों में चयनित फसल की जानकारी दी गई। इस अवसर पर बताया गया कि विदिशा जिला ओडीओपी के तहत प्याज उत्पादन हेतु चिन्हित किया गया है। इसी प्रकार रबी सीजन में गेहूं, चना सहित अन्य फसलों के समर्थन मूल्य पर क्रय करने हेतु पूर्व में किए जाने वाले प्रबंधो पर प्रकाश डाला गया है। जिसमें मुख्य रूप से खरीफ 2019-20 में फसल ऋण वितरण की तुलनात्मक जानकारी, अल्प अवधि रबी फसल ऋण वितरण की जानकारी के तहत तारीख ऋण वितरण, लक्ष्य, स्वंय के संसाधन, अपेक्स बैंक, नावार्ड, लक्ष्य की पूर्ति के विरूद्व उपलब्ध स्त्रोतो में कमी की राशि तथा पीएम किसान के पात्र किसानो को केसीसी में ऋण वितरण, रबी 2020-21 में रासायनिक खाद के अग्रिम भण्डारण की जानकारी के अलावा खरीफ 2019-20 एवं रबी 2020-21 में गेहूं, चना, सरसो, मसूर एवं धान के अंतिम देयक भुगतान प्रस्तुत करने के कार्यो की समीक्षा की गई है इसके अलावा एपीसी के द्वारा कॉ-आपरेटिव बैंको में जिला स्तर पर गवन, धोखाधडी के प्रकरणो की त्रैमासिक बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारियां प्राप्त की। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश / उमेद-hindusthansamachar.in