जिला अस्पताल अपनी प्रतिष्ठा को न खोए, मेडिकल कालेज केवल रतलाम के लिए नहींः संभागायुक्त

 जिला अस्पताल अपनी प्रतिष्ठा को न खोए, मेडिकल कालेज केवल रतलाम के लिए नहींः संभागायुक्त
जिला अस्पताल अपनी प्रतिष्ठा को न खोए, मेडिकल कालेज केवल रतलाम के लिए नहींः संभागायुक्त

रतलाम,12 सितंबर (हि.स.)। संभागायुक्त आनंद शर्मा ने शनिवार को अधिकारियों की बैठक में कहा कि जिले में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की पहचान के लिए जिला स्तर पर नवीन निगरानी पद्धति विकसित की जाए। शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों के लिए पृथक-पृथक कार्य योजना बनाकर प्रभावी उपचार व्यवस्था बनाई जाए। आमजन को फीवर क्लीनिक की लोकेशन पता होनी चाहिए। इससे ज्यादा व्यक्ति फीवर क्लीनिक आकर उपचार लाभ ले सकेंगे। फीवर क्लीनिक का दिशा सूचक तथा सहज दृष्टिगोचर स्थान पर फीवर क्नीनिक के बोर्ड लगाए जाए । जिले के कोविड-केयर सेंटर्स पर एंबुलेंस तथा मॉनिटरिंग सिस्टम सुनिश्चित करें। कलेक्ट्रेट में आयोजित इस बैठक में संभागायुक्त ने निर्देश दिए कि जिला अस्पताल अपनी प्रतिष्ठा को खोए नहीं। उसकी उपयोगिता एवं महत्ता बनी रहे। जिला अस्पताल में भी एसिमटेमिटक पेशेंट की भर्ती एवं उपचार व्यवस्था की जाना चाहिए। मेडिकल कॉलेज मात्र रतलाम के लिए नहीं बल्कि अन्य जिलों के लिए भी है। मेडिकल कॉलेज से मरीज का स्वास्थ्य अच्छा पाया जाने पर शीघ्र डिस्चार्ज किया जाना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.