ग्रेसिम कर्मचारियों के वीआरएस पर अब प्रबंधक कठघरे में
ग्रेसिम कर्मचारियों के वीआरएस पर अब प्रबंधक कठघरे में
मध्य-प्रदेश

ग्रेसिम कर्मचारियों के वीआरएस पर अब प्रबंधक कठघरे में

news

नागदा/उज्जैन, 18 अगस्त (हि.स.)। जिले के नागदा नगर में स्थित ग्रेसिम उद्योग के कर्मचारियों को दिए जा रहे वीआरएस के खिलाफ उज्जैन जिला कांग्रेस ने मोर्चा खोला है। कांग्रेस के जिला कार्यवाहक अध्यक्ष सुबोध स्वामी ने मंगलवार को कलेक्टर के नाम प्रेशित एक ज्ञापन में प्रबंधक पर कानूनी कार्यवाही की मांग की है। यह मामला उठाया गया है कि ग्रेसिम के स्टाफ कर्मचारियों एवं श्रमिकों को शासन की बिना किसी अनुमति के जबरन वीआरएस देकर नौकरी से निकाला जा रहा है। जिससे मजदूर परिवारों में दहशत का वातारण बन गया है। यह भी बताया गया कि ग्रेसिम के अलावा केमिकल डिवीजन एवं लैक्सेस उद्योग में भी मजदूरों के साथ शोषण हो रहा है। लैंक्सेस में भी कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की तैयारी चल रही है। केमिकल में कोरोना काल में लगभग 400 ठेका मजदूरों को नौकरी पर नहीं बुलाया गया। जिससे इन पर रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। ऐसी स्थिति में कर्मचारियों को षासन की बिना अनुमति के जबरन वीआरएस देने पर प्रबंधन के खिलाफ कार्यवाही की जाए। हिन्दुस्थान समाचार / कैलाश सनोलिया-hindusthansamachar.in