खाद्य विभाग का फ्लोर मिल पर छापा, गड़बड़ी मिलने पर सात संचालक गिरफ्तार
खाद्य विभाग का फ्लोर मिल पर छापा, गड़बड़ी मिलने पर सात संचालक गिरफ्तार
मध्य-प्रदेश

खाद्य विभाग का फ्लोर मिल पर छापा, गड़बड़ी मिलने पर सात संचालक गिरफ्तार

news

झाबुआ, 07 सितम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश में कोरोना संकटकाल में गरीबों को घटिया चावल वितरण का मामला उजागर होने के बाद खाद्य विभाग की टीम भी सक्रिय हो रही है। इसी क्रम में भोपाल से खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की एक टीम झाबुआ पहुंची और यहां जिले के पेटलावद स्थित एक फ्लोर मिल पर छापामार कार्रवाई की। बताया जा रहा है कि फ्लोर मिल में गड़बड़ी मिलने के बाद सात संचालकों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि दो संचालक छापामार कार्रवाई की सूचना मिलने के बाद फरार हो गए। जानकारी के मुताबिक, पेटलावद स्थित नेचुरल गोल्ड पल्स एंड फ्लोर मिल के खिलाफ शिकायत मिली थी कि यहां सार्वजनिक वितरण प्रणाली के राशन की गड़बड़ी की जा रही है। इस शिकायत के बाद सोमवार को भोपाल से खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की टीम मौके पर पहुंची और छापामार कार्रवाई की। इस दौरान अनाज खरीदी के रिकार्ड खंगाले गए, जिसमें बड़ी मात्रा में गड़बडिय़ां उजागर हुई हैं। बताया गया है कि इस फ्लोर मिला का संचालन नौ लोग करते हैं। जांच टीम ने सभी संचालकों अली हुसैन बोहरा, लोकेश गादिया, मुनिरा बोहरा, मोहम्मदी बोहरा, मुस्तनसिर चिकलियावाला, होजेफा बोहरा, संजय व्होरा जैन, रजीनकांत लोढा, श्रेणीक कुमार गादिया के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। थांदला थाना पुलिस द्वारा सोमवार को अभियुक्त अली हुसैन पुत्र गुलाम अली बोहरा, मोहम्मदी पुत्र अब्बास बोहरा, मुस्तनसीर पुत्र अली हुसैन, संजय पुत्र चंपालाल जैन, हुजेफा पुत्र अली हुसैन बोहरा रजनीकांत पुत्र रूपचंद जैन और श्रेणिक पुत्र कनकमल गादिया सभी निवासी थांदला को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय द्वारा सभी अभियुक्तों की न्यायिक अभिरक्षा स्वीकार करते हुए जिला जेल झाबुआ भेजा गया। राज्य की ओर से प्रकरण का संचालन एडीपीओ रवि प्रकाश राय द्वारा किया गया। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश तोमर/राजू-hindusthansamachar.in