कोरोना साल में राखी मेल से वितरण की विशेष व्यवस्था
कोरोना साल में राखी मेल से वितरण की विशेष व्यवस्था
मध्य-प्रदेश

कोरोना साल में राखी मेल से वितरण की विशेष व्यवस्था

news

हरदा, 30 जुलाई (हि.स.)। कोरोना महामारी का असर राखी के त्यौहार पर सीधे तौर पर दिख रहा है। बाजार में पहले जैसी रोनक नहीं है, कोरियर सेवाएं बंद है, ऐसे में सभी भाईयों तक राखी पहुंचाना कोरोना काल में सबसे बड़ी चुनौती है। इस चुनौती को स्वीकार किया है भारतीय डाक विभाग ने, सभी पोस्ट ऑफिसों ने राखी मेल स्पेशल गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था की है। रोजाना राखी में जो आए उसे उसी दिन अनिवार्य रूप से वितरित करना है। जब तक राखी की डाक वितरित ना हो जाए तब तक कर्मचारियों को छुट्टी नहीं मिलेगी । इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार इस बार रविवार को भी पोस्ट ऑफिस खुला रहेगा। होशंगाबाद से राखी मेल की डाक एक दिन के अंतराल पर गाड़ी से आती है जिसका जिले भर में तत्काल वितरण सुनिश्चित करवाया जा रहा है। पोस्ट मास्टर धमेंद्र मौर्य ने बताया कि राखी मेल को तत्काल बांटना अनिवार्य है इसलिए रविवार को भी पोस्ट आफिस खोलकर डाक को समय सीमा में वितरित करने की व्यवस्था की गई है। 3 अगस्त को राखी का त्यौहार है उस दिन तक जो भी राखी मेल पोस्ट आफिस तक आएगी, उसका तत्काल वितरण करने की व्यवस्था की गई है। सभी डाक कर्मी कोरोना काल में जी जान से राखी को वितरित करने में जुटे हैं। अरविंद जोशी पोस्ट मास्टर पोस्ट ऑफिस टिमरनी का इसे लेकर कहना है कि गंगाजल की 200 एमएल की बाटल रु 30 में उपलब्ध है। सभी पोस्ट आफिसों में उपलब्ध है जिसे लेकर उसका सभी उपयोग कर सकते हैं । राखी के साथ-साथ गंगाजल के वितरण पर भी विशेष जोर दिया जा रहा है। जरूरतमंद इसे लेकर अक्षय पुण्य अर्जित कर रहे हैं, यह विशेष सुविधा भारतीय डाक विभाग ने राखी त्यौहार को देखते हुए शुरू की है। खिरकिया तहसीलदार श्रीमती अलका एक्का का कहना है कि कोरोना काल में डाक विभाग द्वारा सराहनीय कदम उठाया गया है। राखी मेल वितरण की विशेष व्यवस्था करने के साथ-साथ गंगाजल सहजता से उपलब्ध कराकर एक यादगार पहल की है। इससे लोगों में अच्छा खासा उत्साह है कोरोना महामारी के कारण बहन-भाई को राखी बंधवाने में जो दिक्कत आ रही थी, उसे डाक विभाग ने अपनी अमूल्य सेवा देकर दूर कर दिया है जो निसंदेह काबिले तारीफ है। पोस्ट आफिस हरदा के धर्मेंद्र सिंह मौर्य ने बताया कि राखी त्यौहार को देखते हुए सेम डे डाक वितरित हो रही है। इस कार्य में पूरे अमले में लगाया गया है । एक-दो दिन के अंतराल में इटारसी-होशंगाबाद से पर्सनल गाड़ी आ रही है जिसमें करीब 50 बैग से अधिक होते हैं, एक बैग में 60-70 डाक होती है। उसी वाहन से 10 से 15 बैग हरदा से राखी मेल व अन्य डाक देश के विभिन्न शहरों में जा रही है । उन्होंने बताया कि कोरोना के कारण डाक विभाग ने वाटर प्रूफ लिफाफे नहीं बुला पाए बाजार के लिफाफे से राखी वितरण की व्यवस्था की गई है। हिन्दुस्थान समाचार/प्रमोद सोमानी/मयंक-hindusthansamachar.in