कोरोना काल के दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में बैतूल प्रदेश में अव्वल
कोरोना काल के दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में बैतूल प्रदेश में अव्वल
मध्य-प्रदेश

कोरोना काल के दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में बैतूल प्रदेश में अव्वल

news

विपरीत परिस्थितियों में 6264 ग्रामीणों को मिली आशियाने की सौगात बैतूल 07 सितम्बर (हि.स.)। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण काल में बैतूल जिले के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अमले ने विभागीय योजनाओं के माध्यम से ग्रामीण को लाभान्वित करने सतत काम किया। जिसके सुखद परिणाम लाखों ग्रामीणों को मनरेगा में रोजगार मिलने, हजारों जल संरचनाओं के निर्माण एवं छ: हजार से अधिक आवासहीन ग्रामीणों को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) से आशियाना की सौगात मिलने के रूप में सामने आये है। गत 6 माह के दौरान बैतूल जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत 6264 आवासों का निर्माण पूर्ण कर समूचे प्रदेश में कीर्तिमान स्थापित किया है। कोरोना काल में छ: हजार से अधिक आवासहीन ग्रामीणों को पक्के एवं सुविधायुक्त मकानों की सौगात देने के चलते प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के क्रियान्वयन में बैतूल जिला मप्र में अव्वल रहा है। कोरोना आपदा के दौर में विपरीत परिस्थितियों के बावजूद प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के क्रियान्वयन में बैतूल जिले को हासिल हुई उल्लेखनीय उपलब्धि में जिला पंचायत बैतूल के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एमएल त्यागी द्वारा मैदानी स्तर तक की गई सतत मॉनीटरिंग की महत्वपूर्ण भूमिका बताई जा रही है। चार वर्षो में 33589 आवासों का निर्माण आवासहीनों एवं एक-दो कच्चे कमरों के मकानों में रहने वाले ग्रामीणों को सुविधायुक्त पक्का आवास की सौगात देने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अति महत्वकांक्षी प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण का बैतूल जिले में सफल क्रियान्वयन हो रहा है। बैतूल जिला पंचायत, जनपद एवं ग्राम पंचायतों के अधिकारियों- कर्मचारियों के समन्वित प्रयासों के चलते वर्ष 2016-17 से वर्ष 2019-20 तक बैतूल जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत 39553 आवासों के लक्ष्य के विरूद्ध 33589 आवासों का निर्माण पूर्ण किया जा चुका है तथा 5964 आवासों का निर्माण प्रगतिरत है। बैतूल जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत आवास निर्माण पूर्ण का प्रतिशत लगभग 85 प्रतिशत है। आशियानें की सौगात के साथ अन्य योजनाओं का भी मिला लाभ उल्लेखनीय है कि शासन के निर्देशों के परिपालन में बैतूल जिला पंचायत सीईओ त्यागी द्वारा किये गये विशेष प्रयासों के चलते ग्रामीणों को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत पक्के एवं सुविधायुक्त आशियाना की सौगात के साथ ही शासन की अनेक जनकल्याण योजनाओं से भी लाभान्वित किया गया। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की प्रोजेक्ट ऑफीसर बैतूल नीता पाल के मुताबिक 2011 में हुए सामाजिक, आर्थिक जाति आधारित सर्वे के आधार पर चार केटेगरी आवासहीन शून्य कच्चा कमरा, एक कच्चा कमरा, दो कच्चे कमरे वाले ग्रामीणों को चिन्हित कर प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत उनके आवास स्वीकृत किये है। उन्होंने बताया कि हितग्राहियों को आवास निर्माण के लिए चार किस्तों में एक लाख 20 हजार रुपये की राशि प्रदान की जाती है। साथ ही स्वच्छ भारत अभियान से कन्बरजेंश कर शौचालय निर्माण के लिए 12 हजार रुपये दिये जाते हैं एवं मनरेगा से कन्वरर्जेश के तहत 90 दिनों की मजदूरी का भी प्रावधान है। इसके अलावा हितग्राहियों को पेयजल, बीमा, पेंशन, उज्जवला, एनआरएलएम के तहत स्वसहायता समूह, आधार कार्ड, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, फलदार पौधों के रोपण, दीनदयाल ग्रामीण ज्योति सहित अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं से जोड़कर लाभान्वित किया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार / विवेक सिंह भदौरिया-hindusthansamachar.in