कृषकों की फसलों का बीमा किया गया स्वेच्छिक
कृषकों की फसलों का बीमा किया गया स्वेच्छिक
मध्य-प्रदेश

कृषकों की फसलों का बीमा किया गया स्वेच्छिक

news

रतलाम, 23 जुलाई (हि.स.)। भारत सरकार द्वारा खरीफ से सभी कृषको हेतु योजना को स्वैच्छिक/ऐच्छिक किया गया है। इसी अनुक्रम में योजना में प्रावधान किया गया है कि अल्पकालीक फसल ऋण लेने वाले ऋणी कृषक जो अपनी फसलों का बीमा नहीं करवाना चाहते हैं वे कृषक बीमांकन की अंतिम तिथि 31 जुलाई से सात दिवस पूर्व अर्थात 24 जुलाई तक संबंधित बैंक से लिखित में आवेदन कर निर्धारित प्रपत्र में भरकर योजना से बाहर जा सकते हैं। अल्पकालीक फसल ऋण प्राप्त करने वाले कृषकों की फसलों का बीमा संबंधित बैंक द्वारा किया जाएगा। अऋणी कृषक जिसका बैंक में बचत खाता है, अपनी अधिसूचित फसलों का बीमा बैंक, लोक सेवा केन्द्र या कार्यरत बीमा कम्पनी के अधिकृत एजेंट के माध्यम से आवश्यक दस्तावेज जैसे फसल बीमा प्रस्ताव फार्म, आधा कार्ड, पहचान पत्र वोटर कार्ड, राशनकार्ड, पेन कार्ड, समग्र आई.डी. ड्रायविंग लायसेंस, भू-अधिकार पुस्तिका, पटवारी, ग्राम पंचायत सचिव द्वारा जारी बुवाई प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर अपनी अधिसूचित फसलों का बीमा करवा सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए क्षेत्र के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी एवं ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी से सम्पर्क कर सकते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद जोशी-hindusthansamachar.in