कांग्रेस का आरोप, मप्र में कानून व्यवस्था हुई अराजक, पुलिस के खिलाफ ही सात हजार शिकायतें
कांग्रेस का आरोप, मप्र में कानून व्यवस्था हुई अराजक, पुलिस के खिलाफ ही सात हजार शिकायतें
मध्य-प्रदेश

कांग्रेस का आरोप, मप्र में कानून व्यवस्था हुई अराजक, पुलिस के खिलाफ ही सात हजार शिकायतें

news

भोपाल, 15 अक्टूबर (हि.स.)। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने प्रदेश की कानून व्यवस्था की स्थिति पर हैरानी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री से सवाल किया है। उन्होंने कहा है कि जिन जिलों में उपचुनाव हैं वहां विगत 90 दिनों में पुलिस के खिलाफ सात हजार शिकायतें दर्ज होने के समाचार हैं। जहरीली शराब पीने से 7 आदमियों की मौत हो गई है। भ्रष्टाचार में पकड़े जा रहे बाबू चपरासियों के यहां करोड़ों रुपये मिल रहे हैं। बच्चियों की अस्मत लूटी जा रही है। हत्याएं हो रही हैं। गरीबों की एफ आई आर नहीं लिखी जा रही हैं। आखिर प्रदेश की इस अराजक स्थिति के लिए जिम्मेदार कौन है? इसे कौन संभालेगा? भूपेन्द्र गुप्ता ने गुरुवार को एक बयान जारी कर सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा कि आप अपने आप को गरीब सिद्ध करने में लगे हुए हैं। आप की गरीबी सिद्ध करने का विषय नहीं है, सुशासन आपके सिद्ध करने का विषय है। इस अराजकता से प्रदेश को निजात दिलाइये। प्रदेश को शांति चाहिए, उसको व्यवस्था चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश जानना चाहता है कि क्या अब इस काम के लिये किसी गृह मंत्री को भी इंपोर्ट करना पड़ेगा? मध्यप्रदेश चाहता है कि इस दुर्भाग्य की परिस्थिति से प्रदेश को बाहर निकालिये और अपने दायित्व का निर्वाह करिए, बाद में गरीबी सिद्ध कर लीजिएगा। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय-hindusthansamachar.in