कलेक्टर ने ग्राम हताई पालकी एवं बेरछा में चौपाल लगाकर सुनी ग्रामीणों की समस्या, मौके पर निराकरण
कलेक्टर ने ग्राम हताई पालकी एवं बेरछा में चौपाल लगाकर सुनी ग्रामीणों की समस्या, मौके पर निराकरण
मध्य-प्रदेश

कलेक्टर ने ग्राम हताई पालकी एवं बेरछा में चौपाल लगाकर सुनी ग्रामीणों की समस्या, मौके पर निराकरण

news

उज्जैन, 05 नवम्बर (हि.स.)। कलेक्टर आशीष सिंह ने गुरुवार को नागदा तहसील के ग्राम हताई पालकी एवं बेरछा में ग्राम चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं और उनका मौके पर ही निराकरण किया। उन्होंने हताई पालकी के पंचायत सचिव से ग्राम पंचायत के विकास कार्यों के बारे में जानकारी ली और सरपंच से भी चर्चा की। किसानों से खेतीबाड़ी, फसल बीमा के बारे में भी पूछताछ की। कलेक्टर ने ग्रामीणों से कहा कि इस बार उन्हें फसल बीमा की राशि अच्छे से मिलेगी। खाद की स्थिति के बारे में ग्रामीणों से जानकारी प्राप्त की। लेक्टर ने ग्राम चौपाल में किसानों से कहा कि वे अपनी गेहूं की फसल का बीमा भी अनिवार्य रूप से करायें। उन्होंने ग्रामीणों से बिजली की उपलब्धता के बारे में भी चर्चा की। ग्रामीणों ने कहा कि वर्तमान में समय पर बिजली मिल रही है। हताई पालकी के ग्रामीणों ने कहा कि उनके घरों के ऊपर बिजली की बड़ी लाइन निकली है, उसे हटाया जाये। कलेक्टर ने विद्युत विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये कि मौका मुआयना कर उचित कार्यवाही की जाये। कलेक्टर ने ग्रामीणों से नामांतरण एवं बंटवारे के बारे में भी पूछताछ की। संयुक्त खातेदारों से कहा कि वे अगर खाता अलग करायेंगे तो उन्हें शासन की योजना का अधिक लाभ प्राप्त होगा। फौती नामांतरण के बारे में भी चर्चा की। कुछ ग्रामीणों ने कहा कि शासकीय भूमि पर मकान बने हैं, उन्हें हटाया न जाकर पट्टा उपलब्ध कराया जाये। इस सम्बन्ध में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि वस्तुस्थिति देखकर उचित कार्यवाही की जाये। ग्राम धुमाहेड़ा के ग्रामीण ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना में किश्त समय पर नहीं मिल रही है। कलेक्टर ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिये कि आवास योजना में समय पर किश्त जारी की जाये, ताकि मकान पूर्ण हो सके। ग्राम चौपाल में विकलांग विवाह योजना में कुछ जोड़ों का भुगतान नहीं होने की शिकायत पर कलेक्टर ने सम्बन्धित शिकायतकर्ता को आश्वस्त किया है कि पांच-छह दिनों में भुगतान की कार्यवाही पूर्ण कर ली जायेगी। उन्हेल के ग्रामीणों ने अवगत कराया कि आधार कार्ड बनवाने में कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। कलेक्टर ने इस सम्बन्ध में कहा कि ऑपरेटरों की संख्या को बढ़ाया जायेगा। कलेक्टर आशीष सिंह ग्राम हताई पालकी की ग्राम चौपाल के बाद नागदा से लगभग 10-15 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत बेरछा में शाला भवन परिसर में ग्राम चौपाल लगाकर ग्रामीणों से रूबरू हुए। ग्रामीणों ने पेयजल समस्या के बारे में अवगत कराया। इसी तरह विद्युत केबल ठीक करने की मांग की। कलेक्टर ने इस सम्बन्ध में विद्युत विभाग के अधिकारी को केबल ठीक करने के निर्देश दिये। चौपाल में ग्रामीणों की मांग पर बेरछा ग्राम से दूसरे ग्राम जाने वाली कच्ची सडक़ को पक्की बनाने की मौखिक स्वीकृति प्रदान करते हुए सम्बन्धित विभाग को डीपीआर बनाने के लिये कहा। कलेक्टर से ग्रामीणों ने खाद की कालाबाजारी की शिकायत की। कलेक्टर ने मौके पर एसडीएम को निर्देश दिये कि छापामार कार्यवाही करते हुए खाद की कालाबाजारी को रोका जाये तथा यूरिया की बोरी के साथ डीएपी खाद जबरदस्ती ले जाने के लिये बाध्य करने वाले दुकानदारों पर भी सख्ती की जाये। कलेक्टर ने ग्राम बेरछा में गौशाला का निरीक्षण किया कलेक्टर आशीष सिंह ने ग्रामीण क्षेत्र के भ्रमण के दौरान ग्राम बेरछा में बनी कमलदीप गौशाला का निरीक्षण किया। ग्रामीणों ने इस दौरान अवगत कराया कि गौशाला के समीप शासकीय भूमि पर कतिपय लोगों के द्वारा अतिक्रमण किया गया है, उसे हटाया जाये। कलेक्टर ने मौके पर नागदा अनुविभागीय राजस्व अधिकारी गोस्वामी को अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिये। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश/राजू-hindusthansamachar.in