कम्प्यूटर बाला संतों के साथ निकले लोकतंत्र बचाओ यात्रा पर
कम्प्यूटर बाला संतों के साथ निकले लोकतंत्र बचाओ यात्रा पर
मध्य-प्रदेश

कम्प्यूटर बाला संतों के साथ निकले लोकतंत्र बचाओ यात्रा पर

news

इंदौर, 22 सितम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश विधानसभा की रिक्त 28 सीटों पर होने वाले उपचुनावों को लेकर जहां राजनीतिक घमासान जारी है तो वहीं अब कम्प्यूटर बाबा भी संतों के साथ उपचुनाव के मैदान में कूद पड़े हैं। उन्होंने मंगलवार को कांग्रेस के समर्थन में मंदसौर से लोकतंत्र बचाओ यात्रा की शुरुआत की है। इस यात्रा में बड़ी संख्या में साधु-संत शामिल हैं, जो उपचुनाव वाले क्षेत्रों में पहुंचेंगे और लोगों से भाजपा उम्मीदवारों को हराने की अपील करेंगे। कम्प्यूटर बाबा मंगलवार सुबह इंदौर स्थित आश्रम से संतों के साथ मंदसौर रवाना हुए और यहां से उन्होंने अपनी लोकतंत्र बचाओ यात्रा की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत में उपचुनाव को धर्म और अधर्म की लड़ाई बताते हुए कहा कि उनकी यह यात्रा उन 25 विधानसभा क्षेत्रों में पहुंचेगी, जहां के कांग्रेस विधायक भाजपा में शामिल हुए हैं। उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों में पहुंचकर हम चौपाल कार्यक्रम करेंगे और जनता से अपील करेंगे कि जिन गद्दारों ने आपके वोट को बेचकर आपको छला है, उन्हें वोट न दें। कंप्यूटर बाबा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाते हुए कहा कि जनता का विश्वास आप पर नहीं था, इसीलिए आपकी सरकार को जनता ने उखाड़ फेंका था और कांग्रेस को पांच साल दिये थे, लेकिन आपने और आपके साथियों ने लोकतंत्र की हत्या कर सरकार बनाई। आपको पांच साल इंतजार करना था। यदि आपको इतना इंतजार नहीं करना था तो चुनाव लडक़र आना था। इस प्रकार की जो गद्दारी हुई है। अब धर्म और अधर्म की लड़ाई है, हम इसी को लडऩे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं जनता, राजनेताओं और राजनीतिक विशेषज्ञों से पूछना चाहूंगा कि लोकतंत्र को बचाना हमारा कर्तव्य है या नहीं। हम किसी से यह नहीं कह रहे हैं कि वो किसे वोट दें। कांग्रेस के विधायकों ने गद्दारी कर कमलनाथ सरकार को गिराया और शिवराज सरकार में मंत्री बन गए। विधायक पद छोडऩे के बाद भी ये खरीद-फरोख्त कर सरकार में आ गए। कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि हमारा उद्देश्य है कि देश का संविधान जिंदा रहे, लोकतंत्र की रक्षा हो। जिन्होंने खुद को बेचकर मतदाता को धोखा दिया है, अब हम उनके खिलाफ यह यात्रा निकाल रहे हैं। हम सैकड़ों संतों के साथ उपचुनाव वाले क्षेत्रों में पहुंचकर ऐसे बिकाऊ नेताओं को हराने की अपील करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश-hindusthansamachar.in