कमिश्नर ने दिये नागरिकों को स्वच्छ और शुद्ध जल उपलब्ध कराने के निर्देश
कमिश्नर ने दिये नागरिकों को स्वच्छ और शुद्ध जल उपलब्ध कराने के निर्देश
मध्य-प्रदेश

कमिश्नर ने दिये नागरिकों को स्वच्छ और शुद्ध जल उपलब्ध कराने के निर्देश

news

शहडोल, 14 अक्टूबर (हि.स.)। शहडोल कमिश्नर नरेश पाल ने बुधवार को लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एवं जल निगम की संभाग स्तरीय समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने संभाग के नागरिकों को स्वच्छ और शुद्ध जल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि जिले के ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों के लोगों को स्वच्छ और शुद्ध जल सत्त रूप से उपलब्ध हो, इसके लिये निरंतर प्रयास किये जाएं। संभाग के दूर-दराज के क्षेत्रो में जहां पेयजल वितरण की समस्या हो ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित किया जाएं तथा ऐसे क्षेत्रों में पेयजल की सतत आपूर्ति सुनिश्चित हो, इसके लिये विशेष कार्य योजना तैयार कर पेयजल व्यवस्था की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएं। बैठक में कमिश्नर ने उमरिया जिले के आकाश कोट क्षेत्र की पेयजल व्यवस्था की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को क्षेत्र के पानी की कमी वाले गांव में पेयजल की माकूल व्यवस्था करने के निर्देश दिए। बताया गया कि आकाश कोट क्षेत्र के 112 गांवों के लिये उमरार डेम से पानी मुहैया कराने के लिये तेजी से कार्य किये जा रहे हैं। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि संभाग के सभी नल जल योजनाएं सत्त रूप से चालू रहे तथा नल जल योजनाओं के माध्यम से लोगों को शुद्व पेयजल उपलब्ध हो। नल जल योजनाओं के लिये पानी की मोटर खराब होने की स्थिति में अतिरिक्त पानी मोटर की भी व्यवस्थाएं सुनिश्चित रहे। पानी मोटर खराब होने की स्थिति में पेयजल व्यवस्था बाधित नही होना चाहिए। बैठक में कमिश्नर द्वारा मुख्यमंत्री नल जल योजना के कार्यों की भी समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान कमिश्नर ने निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री नल जल योजना के कार्यो में गति लाने के लिये निर्माण एजेन्सी के ठेकेदारों एवं कलेक्टरों की संयुक्त बैठक आयोजित कराएं तथा कलेक्टरों के माध्यम से निर्माण कार्य तेजी से पूर्ण करने हेतु निर्माण एजेंन्सी के ठेकेदारों को निर्देशित कराएं। जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा करते हुए कमिश्नर ने निर्देश दिए कि जल जीवन मिशन के निर्माण कार्यो में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाएं तथा निर्माण कार्यो का निरीक्षण अन्य विभागों के अधिकारियों से भी कराया जाएं। जल जीवन मिशन के निर्माण कार्यों में गुणवत्ता को लेकर किसी भी प्रकार की शिकायतें प्राप्त नहीं होना चाहिए। बैठक में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधीक्षण यंत्री एसएल चौधरी ने बताया कि जल जीवन मिशन के अन्तर्गत शहडोल संभाग के सभी 1998 गांव में हर घर तक पानी पहुंचाने का वर्ष 2022-23 लक्ष्य रखा गया है, वर्षवार कार्ययोजना कर ली गयी है जिसका कार्य तेजी से किया जा रहा है। ऑगनवाड़ी केन्द्रों एवं स्कूलों तक भी जल जीवन मिशन के अन्तर्गत पानी पहुंचाया जाएगा। जल जीवन मिशन की अवधारणा को जन मानस तक पहुचाने के प्रयास किये जा रहे हैं। संभाग में 598 नल जल योजना संचालित है जिनमें से 21 नल जल योजनाएं बंद हैं, जिन्हें सुधारने के प्रयास किये जा रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश/राजू-hindusthansamachar.in