कमलनाथ से मुलाकात के बाद संयुक्त कलेक्टर ने दिया नौकरी से त्यागपत्र, चुनाव लडऩे की अटकलें
कमलनाथ से मुलाकात के बाद संयुक्त कलेक्टर ने दिया नौकरी से त्यागपत्र, चुनाव लडऩे की अटकलें
मध्य-प्रदेश

कमलनाथ से मुलाकात के बाद संयुक्त कलेक्टर ने दिया नौकरी से त्यागपत्र, चुनाव लडऩे की अटकलें

news

अनूपपुर, 16 सितम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश में उपचुनाव की जंग दिन ब दिन तेज होती जा रही है। अनूपपुर सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए संयुक्त कलेक्टर शहडोल रहे रमेश सिंह के ताल ठोकी है। रमेश सिंह ने प्रशासनिक अधिकारी के पद से मेंअपार को स्तीफा दे दिया है जिसे सरकार ने मंजूर कर लिया है। बुधवार की रात पत्रकारों से मिलकर अपने इस्तीफा और चुनावी रणनीत का खुलाश करेंगे। सूत्रों की माने तो कांग्रेस से अनूपपुर विधानसभा के उम्मीदवार बनाए जा सकते हैं। कमलनाथ से मुलाकात के बाद त्यागपत्र संयुक्त कलेक्टर के पद से स्तीफा देने से ठीक पहले रमेश सिंह ने भोपाल में पूर्व सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ से मुलाकात की थी। बताया जा रहा है कि कमलनाथ की ओर से आश्वासन मिलने के बाद ही उन्होंने संयुक्त कलेक्टर पद से त्यागपत्र दिया है। रमेश सिंह अनूपपुर जिले के खाड़ा गांव के रहने वाले हैं और वो राज्य प्रशासनिक सेवा में रहते हुए सतना, उमरिया, डिंडौरी समेत प्रदेश के कई जिलों में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। प्रत्याशी बदले जाने की संभावना रमेश सिंह के त्यागपत्र के बाद इस तरह की खबरें जोर पकड़ रही हैं कि कांग्रेस उन्हें अनूपपुर उपचुनाव में प्रत्याशी बना सकती है। बता दें कि कांग्रेस ने बीते दिनों उपचुनाव के लिए 15 प्रत्याशियों का एलान किया था तब अनूपपुर सीट से विश्वनाथ सिंह को प्रत्याशी बनाया है लेकिन अब इस तरह की खबरें हैं कि जल्द ही कांग्रेस प्रत्याशी में बदलाव कर रमेश सिंह को उम्मीदवार बना सकती है। बता दें कि बिसाहूलाल सिंह के कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने के बाद अनूपपुर सीट खाली हुई है। बिसाहूलाल सिंह शिवराज सरकार में मंत्री हैं और वो उपचुनाव में अनूपपुर से बीजेपी के उम्मीदवार भी होंगे। हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला-hindusthansamachar.in