कमलनाथ-दिग्विजय की सम्पत्ति के बराबर सिंधिया का एक महल: विजयवर्गीय
कमलनाथ-दिग्विजय की सम्पत्ति के बराबर सिंधिया का एक महल: विजयवर्गीय
मध्य-प्रदेश

कमलनाथ-दिग्विजय की सम्पत्ति के बराबर सिंधिया का एक महल: विजयवर्गीय

news

अशोकनगर, 14 अक्टूबर(हि.स.)। कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की दोनों की मिलाकर जितनी सम्पत्ति है, उतना तो ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक महल है। शिवराज को नालायक और सिंधिया को गद्दार कहने वाले पहले अपनी गिरेबान में झांके, प्रदेश में 28 स्थानों पर होने वाले उपचुनाव सिंधिया के साहसिक निर्णय का परिणाम हैं, सिंधिया पहले गलत ट्रेन में बैठ गए थे, पर अब सही ट्रेन में बैठे हैं। यह बात भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को जिले में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मेरे राजनैतिक जीवन में पहले कभी इस प्रकार 28 उपचुनाव नहीं हुए, मैंने माधवराव सिंधिया, अर्जुन सिंह, श्यामाचरण शुक्ल, मोतीलाल बोरा के साथ राजनीति की है, और मध्यप्रदेश में विपक्ष को सम्मान देने की परम्परा रही है, पर नई पीढ़ी को निराशा हो रही है कि नालायक, गद्दार, बिक गए जैसे शब्द पहले सुनाई नहीं दिए। विजयवर्गीय ने कहा कि सिंधिया को बिकाऊ कहने वाले कमलनाथ और दिग्विजय सिंह दोनों की मिलाकर इतनी सम्पत्ति नहीं होगी जितने का सिंधिया का महल है। उन्होंने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को चुन्नु-मुन्नु कहते हुए कहा कि इनके वचन पत्र पर किसी ने विश्वास नहीं किया, चुन्नु जब मुख्यमंत्री बने तो मुन्नु नोट गिनते रहे पर किसानों का कर्जा इनके द्वारा माफ नहीं किया गया। कहा कि देश में नरेन्द्र मोदी की ट्रेन चल रही है। जिसके तहत राम मंदिर निर्माण के बाद इन चुन्नु-मुन्नु को दर्शन के लिए जाना चाहिए। कश्मीर से 370 हटाने कभी बहुत मुश्किल माना जाता था पर नरेन्द्र मोदी और अमित शाह ने 370 हटाकर मुमकिन किया। अब सिंधिया भी नरेन्द्र मोदी की सही ट्रेन में बैठ गए हैं, पहले वे गलत ट्रेन में बैठे थे। कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि सिंधिया को कमलनाथ ने सडक़ पर उतरने को कहा था, आज सिंधिया सही ट्रेन में बैठे हैं और चुन्नु-मुन्नु सडक़ पर आ गए हैं और गद्दार-गद्दार चिल्ला रहे हैं, गद्दार चिल्लाने वाले चुन्नु-मुन्नु को पहले अपनी गिरेबान में झांकना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार देश की सीमा पर सैनिक रक्षा के लिए खड़े रहते हैं, उसी प्रकार आंतरिक सुरक्षा के लिए भाजपा के कार्यकर्ता बूथ पर बैठकर खड़े रहते हैं। आज देश में अरवन नक्सल समस्या खड़ी हुई है, जो देश में अशांति फैलाना चाहते हैं। तो दूसरी तरफ मोदी देश में और शिवराज सिंह प्रदेश में शांति चाहते हैं। उन्होंने कहा कि चीन हमारा सबसे बढ़ा दुश्मन है, पर मोदी के 56 इंच के सीने के आगे उसे पीछे हटना पड़ता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में होने वाले 28 चुनाव सिंधिया के साहसिक निर्णय के कारण हो रहे हैं, प्रदेश में नायक, नालायक, खलनायक, गद्दार कौन है ये आने वाले समय में जनता तय करेगी। हिन्दुस्थान समाचार / देवेन्द-hindusthansamachar.in