एक नवंबर से महाविद्यालयों की ऑनलाईन कक्षाएं होंगी प्रारंभ
एक नवंबर से महाविद्यालयों की ऑनलाईन कक्षाएं होंगी प्रारंभ
मध्य-प्रदेश

एक नवंबर से महाविद्यालयों की ऑनलाईन कक्षाएं होंगी प्रारंभ

news

गुना, 17 सितम्बर (हि.स.)। प्रदेश में महाविद्यालयीन कक्षाएं एक नवंबर से ऑनलाइन प्रारंभ की जाएंगी। शासकीय महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए कोई भी विद्यार्थी प्रवेश से वंचित नहीं रहे। यह निर्देश प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन सिंह यादव ने गुरुवार को स्थानीय सर्किट हाउस में जिले के सभी शासकीय महाविद्यालयों के प्राचार्यो की आयोजित बैठक में दिए। उन्होंने जिले के सभी शासकीय महाविद्यालय के प्राचार्यो को निर्देशित किया कि वे जनभागीदारी मद से आवश्यक नवीन अधोसंरचनाएं विकसित कराएं। प्रगतिरत कार्य शीघ्र पूरा कराएं एवं नवाचार करें। साथ ही सेल्फ फायनेंस मद से नए कोर्स प्रारंभ करें। यही नहीं उन्होंने कहा कि छात्रों के हित में जितना बेहतर किया जा सकता है, किया जाए। मध्यप्रदेश पहला राज्य है जिसने अपने बलबूते फाइनल एवं पीजी फाइनल की परीक्षा कराए जाने की घोषणा की थी तथा उसे यूजीसी की गाइड लाइन का पालन करते हुए लागू किया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लगभग 19 लाख विधार्थी हैं जो अलग-अलग कोर्स में पढ़ाई कर रहे हैं। प्रदेश सरकार सिलेबस में कोई कमी नहीं करेगी। वर्तमान सिलेबस को ही जारी रखेंगे तथा अगला सेशन समय पर आयोजित किया जाएगा। इस अवसर पर विधायक गोपीलाल जाटव सहित जिले के सभी शासकीय महाविद्यालयों के प्राचार्य मौजूद रहे। - दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग हुआ वितरण - सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग गुना द्वारा एलिम्को जबलपुर के सहयोग से दिव्यांगजनों को नि:शुल्क कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरणों का वितरण गुरुवार को जिला अस्पताल परिसर स्थित जिला विकलांग पुनर्वास केन्द्र में कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने किया। प्रभारी उपसंचालक सामाजिक न्याय विभाग गुना सोनम जैन ने बताया कि इसके अलावा विकासखण्डों में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, मुख्य नगरपालिका अधिकारी नगरपालिका, नगर परिषदों द्वारा भी दिव्यांगजनों को नि:शुल्क कृत्रिम अंग सहायक उपकरण प्रदाय किए गए। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक-hindusthansamachar.in