उप चुनाव कमलनाथ सरकार की देनः शिवराज
उप चुनाव कमलनाथ सरकार की देनः शिवराज
मध्य-प्रदेश

उप चुनाव कमलनाथ सरकार की देनः शिवराज

news

दतिया, 16 अक्टूबर (हि.स.)। कमलनाथ सरकार ने जो जनता से वादा किया था, उन्होंने नहीं निभाया, जिस कारण हमें उपचुनाव का सामना करना पड़ रहा है। झूठे वादों के कारण ही कमलनाथ सरकार गिरी और पुनः भाजपा की सरकार बनी। तीन नवम्बर हो रहे उपचुनाव में भाण्डेर विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी रक्षा संतराम सिरौनिया को अपना आशीर्वाद देकर भाजपा के साथ विकास के पथ पर अग्रसर हो, आत्मनिर्भर मप्र बनाने के लिए भाजपा की सरकार को मजबूत करें, यही संकल्प लेकर मैं आपके बीच आया हूँ। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को भांडेर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम सालोन बी में सभा को संबोधित करते हुये कही। उन्होंने कहा कि मैं जनता को प्रणाम करता हूं तो कमलनाथ एवं कांग्रेसियों को दिक्कत होती है, जबकि लोकतंत्र में जनता ही भगवान होती है और भगवान को प्रणाम करना हमारे संस्कारों में है। फिल्मी गाने “ जो वादा किया वह निभाना पड़ेगा “कहकर मुख्यमंत्री ने कमलनाथ पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 15 महीने के कार्यकाल में कमलनाथ सरकार ने जनता से जो वादा किया था, वह नहीं निभाया। किसान एवं जनता के सिर पर रखे बोझ की गठरी को उतारने के लिए अभी शिवराज जिंदा है। भाजपा की सरकार जो कहती है वह करती है। सभा में गृह मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस कार्यकाल में किसी भी मुख्यमंत्री ने दतिया जिले में इतना समय नहीं दिया, जितना कि हमारे आपके चहेते यशस्वी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिया है। चौहान ने हमारे क्षेत्र में प्रसिद्ध रतनगढ़ स्थान पर इतना बड़ा घंटा लगा दिया कि जिसकी टनकार समूचे मध्यप्रदेश में गूंज रही है। कांग्रेस की सरकार बनते ही मध्य प्रदेश की जनता ने विचार किया कि प्रदेश में अब उद्योग धंधे प्रारंभ होकर बेरोजगारी समाप्त होगी, लेकिन कमलनाथ जी ने बल्लभ भवन पहुंचकर वहां पर तो उद्योग धंधे की जगह ट्रांसफर धंधा, अवैध रेत उत्खनन तथा गैर कानूनी मनमाने तरीके से सरकार चलाई जिसका खामियाजा उन्हें 15 महीने में ही भुगतना पड़ा। वह तो उद्योगपति हैं उन्हें जनता के दर्द से कोई सरोकार नहीं रहा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की सभा में मंच पर भांडेर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस नेता अन्नू भारती पिंटू धाकड़ पूर्व सिंचाई अध्यक्ष एवं क्षेत्र के लगभग आधा दर्जन सरपंचों ने अपने तमाम साथियों के साथ मुख्यमंत्री के समक्ष भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। हिन्दुस्थान समाचार / संतोष-hindusthansamachar.in