उज्जैन: महाकाल मंदिर के नीचे मिले पुरातन अवशेषों का केंद्रीय दल ने किया अवलोकन
उज्जैन: महाकाल मंदिर के नीचे मिले पुरातन अवशेषों का केंद्रीय दल ने किया अवलोकन
मध्य-प्रदेश

उज्जैन: महाकाल मंदिर के नीचे मिले पुरातन अवशेषों का केंद्रीय दल ने किया अवलोकन

news

उज्जैन, 23 दिसम्बर (हि.स.)। महाकाल मंदिर के विस्तारीकरण के लिए चल रही खुदाई में मिले पुरातन अवशेषों की जांच के लिए बुधवार को केंद्रीय दल पहुंचा। दल के सदस्यों ने इस अवशेषों का अवलोकन किया। उन्होंने इन अवशेषों के एक हजार साल पुराने मंदिर के अवशेष होने की संभावना जताई है। केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रहलाद पटेल के निर्देश पर बुधवार को पुरातत्व विभाग की केंद्रीय टीम के सदस्य महाकाल मंदिर के नीचे मिले पुरावशेषों के अवलोकन के लिए पहुंचे। इस दल में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण मंडल भोपाल के अधीक्षण पुरात्तवविद डॉ. पीयूष भट्ट व खजुराहो पुरातत्व संग्रहालय के प्रभारी केके वर्मा शामिल थे। प्रारंभिक निरीक्षण के बाद टीम के सदस्यों ने बताया कि प्राचीन अवशेष की बनावट और नक्काशी दसवीं और ग्यारहवीं शताब्दी के मंदिरों की तरह है। उम्मीद जताई जा रही है कि खुदाई से उज्जैन और महाकाल से जुड़ा नया इतिहास पता चलेगा। अभी विशेषज्ञों की टीम मंदिर परिसर में हर चीज का बारीकी से जायजा ले रही है। कोशिश की जा रही है कि किसी भी पुरातात्विक महत्व की धरोहर को नुकसान न पहुंचे। डॉ. भट्ट ने बताया, फिलहाल नहीं कह सकते कि यह प्राचीन दीवार और मंदिर का विस्तार कहां तक है। हिन्दुस्थान समाचार/केशव दुबे-hindusthansamachar.in