उच्च शिक्षा मंत्री ने अंचल के प्राचार्यों की जेयू में ली बैठक, कहा-ऑनलाइन पढ़ाई को दें बढ़ावा
उच्च शिक्षा मंत्री ने अंचल के प्राचार्यों की जेयू में ली बैठक, कहा-ऑनलाइन पढ़ाई को दें बढ़ावा
मध्य-प्रदेश

उच्च शिक्षा मंत्री ने अंचल के प्राचार्यों की जेयू में ली बैठक, कहा-ऑनलाइन पढ़ाई को दें बढ़ावा

news

ग्वालियर, 10 सितम्बर (हि.स.)। कोरोना काल में बच्चों को शिक्षित करने के लिए ऑनलाइन पढ़ाई पद्धति अपनाई गई है और परीक्षाएं भी कराई जा रही हैं। यह एक अच्छा प्रयास है। हम सभी को ऑनलाइन पढ़ाई पर जोर देना चाहिए और इसे आगे बढ़ाना चाहिए। क्योंकि इस तरह का संकट कभी भी आ सकता है। संकट के दौर में ऑनलाइन पढ़ाई कराने से बच्चे पिछड़ेंगे नहीं और पढ़ाई का नुकसान भी नहीं होगा। यह बात गुरुवार को जीवाजी विश्वविद्यालय के टंडन हॉल में अंचलभर के प्राचार्यों की बैठक लेते हुए प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन सिंह यादव ने कही। विश्वविद्यालय में मंत्री के पहुंचने पर कुलपति प्रो. संगीता शुक्ला, कुलसचिव आनंद मिश्रा, आईके मंसूरी सहित जनसंपर्क अधिकारी केशव सिंह गुर्जर ने स्वागत किया। मंत्री यादव ने बैठक लेकर कहा कि सेल्फ फाइनेंस कोर्सों को ज्यादा से ज्यादा अपनाएं और इन्हें आगे बढ़ाएं, जिससे विद्यार्थियों को फायदा हो सके। मंत्री ने सभी प्राचार्यों से कहा कि परीक्षा सावधानीपूर्वक कराएं और इस महामारी से बचाव करने के लिए कॉलेजों में पर्याप्त इंतजाम होने चाहिए। सेनेटाइजर की मशीनें सभी कॉलेजों में लगनी चाहिए। इस दौरान उन्होंने निर्माण कार्यों को लेकर भी कहा कि जिन महाविद्यालयों में निर्माण कार्य चल रहे हैं, उन्हें तेजी के साथ पूरा कराएं और किसी भी तरह की लापरवाही सामने आती है तो इसके लिए प्राचार्य जिम्मेदार होंगे। जीवाजी विश्वविद्यालय के विभिन्न संकायों के प्रभारियों की बैठक लीऔर इस दौरान उन्होंने रिसर्च को बढ़ाने की बात कही। इस दौरान उन्होंने जीवाजी विश्वविद्यालय में संचालित कोर्सों की जानकारी ली। इस बैठक में कुलपति संगीता शुक्ला के अलावा कार्यपरिषद के सदस्य मोनू सोलंकी, वीरेन्द्र गुर्जर, अनूप अग्रवाल सहित कईलोग मौजूद थे। जेयू के कर्मचारियों ने दिया ज्ञापन उच्च शिक्षा मंत्री मोहन सिंह यादव से जीवाजी विश्वविद्यालय के दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों ने चर्चा कर ज्ञापन देते हुए अपन विभिन्न समस्याओं को गिनाया। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को स्थायी किया जाए, जिस पर मंत्री ने भरोसा दिलाया कि जल्द से जल्द उन्हें स्थायी करने का काम किया जाएगा। साथ ही जो भी समस्याएं होंगी उनका समाधान करने के लिए चर्चा करेंगे। पदाधिकारियों से की मुलाकात गुरुवार की सुबह प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन सिंह यादव ने जीवाजी विश्वविद्यालय में प्राचार्यों की बैठक लेने से पहले सर्किट हाउस में पहुंचकर भाजपा के पदाधिकारियों से चर्चा की तो कॉलेजों के प्रोफेसरों से भी मुलाकात कर उनकी समस्याओं को सुना। इस दौरान कई लोगों ने ज्ञापन दिए जिस पर उन्होंने कहा कि जो भी संभव होगा किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार / श्याम / मुकेश-hindusthansamachar.in