ईओडब्ल्यू ने आय से अधिक संपत्ति मामले में पूर्व पत्नी और मां को भी बनाया आरोपित
ईओडब्ल्यू ने आय से अधिक संपत्ति मामले में पूर्व पत्नी और मां को भी बनाया आरोपित
मध्य-प्रदेश

ईओडब्ल्यू ने आय से अधिक संपत्ति मामले में पूर्व पत्नी और मां को भी बनाया आरोपित

news

भोपाल, 17 सितम्बर (हि.स.)। आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) ने आय से अधिक संपत्ति के मामले में जिला सहकारी बैंक हरदा की टिमरनी शाखा के निलंबित मैनेजर हेमंत व्यास की पत्नी ममता व्यास और मां कमलाबाई को भी आरोपित बनाया है। गुरुवार को दोनों उनके खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई है। प्रदेश में संभवत: यह पहला मामला है जब ईओडब्ल्यू द्वारा आय से अधिक संपत्ति के मामले में आरोपित की पत्नी और मां को भी आरोपित बनाया गया है। जानकारी के मुताबिक, सहकारी बैंक की टिमरनी ब्रांच में मैनेजर रहते हुए हेमंत व्यास ने अनुपातहीन संपत्ति अर्जित की। वर्ष 2009 में केंद्र सरकार की कर्ज माफी योजना में भ्रष्टाचार की शिकायत ईओडब्ल्यू को मिली थी। इस मामले में ईओडब्ल्यू ने हेमंत सहित बैंक के एक दर्जन कर्मचारियों को आरोपित बनाया था। हेमंत के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम समेत अन्य धाराओं में अपराध दर्ज किया। इसके बाद उन्हें राज्य सरकार द्वारा निलंबित कर दिया गया था। मामले की जांच में ईओडब्ल्यू ने पाया कि कर्ज माफी योजना में भ्रष्टाचार करके हेमंत ने अनुपातहीन संपत्ति अर्जित की थी। उसने भ्रष्टाचार के रुपयों से बंगला बनाने के साथ ही बच्चों की पढ़ाई में लाखों रुपये वहन किए। जांच में पता चला है कि हेमंत व्यास के खिलाफ ने 58 लाख रुपये की कीमत का आलीशान बंगला पत्नी और मां के नाम पर खरीदा था। साथ ही बंगले में लाखों रुपये का इंटीरियर डेकोरेशन कराया था। इसी के आधार पर ईओडब्ल्यू ने दोनों को आरोपित बनाया है। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश-hindusthansamachar.in