अपडेट, सिवनी जिले में दर्ज हुए 4.3 तीव्रता का भूकंप का झटका
अपडेट, सिवनी जिले में दर्ज हुए 4.3 तीव्रता का भूकंप का झटका
मध्य-प्रदेश

अपडेट, सिवनी जिले में दर्ज हुए 4.3 तीव्रता का भूकंप का झटका

news

सिवनी, 22 नवम्बर (हि.स.)। जिले में बीती देर रात 22.10 उत्तरी अक्षांश 79.55 पूर्वी देशांतर के निकट 4.3 रिक्टर तीव्रता का भूकंप दर्ज हुआ है। जिसका एपीसेंटर 10 किलोमीटर गहराई में स्थित है। इस बात की पुष्टि कलेक्टर डाॅ. राहुल हरिदास फांटिग ने की है। वहीं नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय भारत सरकार की बेबसाईट मे दर्ज किये सिवनी जिले में भूंकप की संख्या अलग-अलग 03 बताई जा रही है। कलेक्टर ने बताया कि भारतीय मौसम विज्ञान केंद्र एवं नेशनल सेंटर फॉर सिसमोलाजी से प्राप्त जानकारी अनुसार बीती देर रात 01.45 बजे सिवनी में 22.10 उत्तरी अक्षांश 79.55 पूर्वी देशांतर के निकट 4.3 रिक्टर तीव्रता का भूकंप दर्ज हुआ है। जिसका एपीसेंटर 10 किलोमीटर गहराई में स्थित है। जिला प्रशासन भारतीय मौसम विज्ञान के वरिष्ठ वैज्ञानिकों के सतत संपर्क में हैं। सभी वरिष्ठ कार्यालय को जानकारी उपलब्ध करायी जा चुकी हैं। जिला प्रशासन द्वारा नागरिकों की जान-माल की सुरक्षा हेतु मौसम विज्ञान विभाग द्वारा बताए गए सभी सतर्कता बरतने के प्रयास लगातार किए जा रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा पुलिस, होमगार्ड्स, एसडीआरएफ, स्वास्थ्य एवं स्थानीय प्रशासन अधिकारी कर्मचारियों को समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित करते हुए अलर्ट पर रहने हेतु निर्देशित किया गया है। 06 घंटे में 03 भूंकप के झटके नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय भारत सरकार की बेबसाईट मे दर्ज सिवनी जिले में भूंकपो की संख्या के अनुसार शनिवार-रविवार की दरम्यिानी रात्रि को मूल समय 2020-11-22 01.45ः02 आईएससी लैट, लंबी 22.10, 79.55 परिमाण, गहराई एमः 4.3 - डीः 10 किमी ईवेंट प्रकार की समीक्षा की गई है इसी प्रकार मूल समय 2020-11-22 03ः40ः53 आईएसटी लैट, लॉन्ग 21.89, 79.80 परिमाण, गहराई एमः 1.8 - डी. 10 किमी और उत्पत्ति समय 2020-11-22 06ः23ः59 आईएसटी लैट, लॉन्ग 21.89, 79.45 परिमाण, गहराई एमः 2.7 - डीः 10 किमी ईवेंट प्रकार की समीक्षा की गई है। घरों से बाहर निकले लोग शनिवार-रविवार की दरम्यिानी रात्रि 1.45 बजे मुख्यालय सहित आसपास के ग्रामों के आमजनों ने इसका महसूस किया और घर से बाहर निकलकर सड़कों पर आ गये। इस दौरान अपने पूरे घर को हिलता देख अन्य सदस्यों की गहरी नींद भी टूट गई और वह कड़ाके की ठंड में बाहर खडे होने को मजबूर हो गये। आमजनों के अनुसार बीते 04 माहों में जिले में इससे पहले आए सभी भूंकप में से सबसे तेज भूंकप को लोगों ने करीब 15 सेकेंड तक धरती हिलने व भूकंप के झटके महसूस किए है। हालाकि इस भूकंप से कोई बड़ा नुकसान होने की खबर फिलहाल नहीं हैं। भूकंप के डर ने लोगों का सोना मुश्किल कर दिया। इस जोरदार भूकंप से लोगों में दहशत का माहौल हैं। रात में घरों से बाहर निकले लोग कड़ाके की ठंड में आग जला कर आग तापते नजर आए वहीं जमीनी सतह से उपर प्रथम, द्वितीय, तृतीय तल में रहने वालें लोगों ने यह भूंकप का झटका ज्यादा महसूस किया है। बीते 4 माह से जिले में भूगर्भीय हलचल हो रही। रातों में लोग अपने घरों में जाने से भी डर रहे है। छिड़िया, पलारी, डूंडासिवनी क्षेत्र में तो दहशत के कारण लोग रात में घर के बाहर आगन में सोने को मजबूर हैं। 04 माहों में जिलेवासियों ने महसूस किये कई कंपन और भूगर्भीय हलचल जिले में 27 अक्टूबर को रिक्टर स्केल पर सिवनी में पहला भूकंप 3.3 तीव्रता, 31 अक्टूबर को दिन में दो बार 3.1 व 3.5 तीव्रता का भूकंप, 9 नवंबर को 3.4 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया है। इसी तरह शनिवार-रविवार की दरम्यिानी रात्रि को सबसे तेज भूंकप की हलचल दर्ज की गई है। सीसीटीवी कैमरे मे कैद हुई भूगर्भीय हलचल देर रात्रि आये आये सबसे तेज भूंकप की हलचल को सिवनी के एमआरएफ टायर व लक्ष्मी पाइप फैक्टी सहित अन्य कई दुकानांेदारों ने इस हलचल को अपने प्रतिष्ठान में लगे कैमरे में कैद किया है। जिसको सोशल मीडिया मे वायरल करते हुए लोग दिखाई दिये। हिन्दुस्थान समाचार/रवि-hindusthansamachar.in