अपडेट.. मासूम का अपहरण, फिरौती और हत्या के मामले में तीन आरोपित गिरफ्तार
अपडेट.. मासूम का अपहरण, फिरौती और हत्या के मामले में तीन आरोपित गिरफ्तार
मध्य-प्रदेश

अपडेट.. मासूम का अपहरण, फिरौती और हत्या के मामले में तीन आरोपित गिरफ्तार

news

जबलपुर, 18 अक्टूबर (हि.स.)। शहर के संजीवनी नगर थानांतर्गत विगत 15 अक्टूबर की शाम को धनवंतरी नगर हाऊसिंग बोर्ड कालोनी निवासी मुकेश लम्बा का 13 वर्षीय बेटा आदित्य लम्बा अपने घर से चिप्स और अन्य सामान लेने किराना दुकान गया था, जहां से उसका अपहरण कर लिया गया था। रविवार सुबह उसका शव बरामद हुआ। इसके बाद पुलिस अधीक्षक के सख्त निर्देशों के तत्काल बाद पुलिस सक्रिय हुई जिसमें तीन संदिग्ध आरोपितों से पूंछताछ कर अपहरण कर हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया है। रविवार को पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने पत्रकारों को घटना के बारे में बताया कि पुलिस ने अपहरण कर फिरौती लेने फिर हत्या करने वाले तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है, जिसमें राहुल उर्फ़ मोनू विश्वकर्मा (30) निवासी महराजपुर अधारताल ,मलय राय (25) निवासी महराजपुर अधारताल, करण जग्गी (24) निवासी शामिल हैं। आरोपितों ने 15 अक्टूबर को आदित्य लांबा (13) को करण जग्गी ने सफेद कलर की स्वीफ्ट में यह कहकर बैठा लिया कि उसे घर छोडने का कहकर बैठा लिया। इसके बाद आरोपितों ने शातिराना अंदाज में आदित्य का मुंह दबा लिया एवं उसका अपहर कर मां का मोबाइल नम्बर पूछा। मोबाईल से पैसों के लेन-देन की बात शुरू की, पूरी रात आदित्य को कार मे बरोदा तिराहा, पनागर क्षेत्र में घुमाते रहे, तथा ढाबे मे खाना भी खिलाया। 16 अक्टूबर सुबह महाराजपुर अधारताल पहुंचे तथा राहुल उर्फ मेानू विश्वकर्मा के घर के बाजू में खाली पडे मकान में आदित्य को ले गये और शाम तक वहां रखा। इसके बाद तीनों ने आदित्य द्वारा पहचानने की बात कहने पर उसकी हत्या का प्लान बनाया और योजना के मुताबिक शाम को महाराजपुर आदित्य का गमछें से मुह दबा दिया, उसकी मौत हो गई। इसके बाद मुंह मे गमछा बांधकर आदित्य के शव को नहर के पानी में फेंक दिया और वापस महाराजपुर आ गए। पकड़े गये तीनों आरोपितों की निशादेही पर अपहृत आदित्य लांबा का शव जलगाव मे बरगी नहर से दस्तयाब कर पोस्टमार्टम कराया गया, प्रकरण में धारा 364, 364ए,302 भा.द.वि. का इजाफा करते हुये घटना में प्रयुक्त 1 मोबाईल एवं आरोपितों के 3 मोबाईल तथा फिरौती के रूप में दिये हुये 8 लाख रुपये में से 7 लाख 66 हजार रुपये जप्त किये गये। हिन्दुस्थान समाचार /ददन-hindusthansamachar.in