update-criminals-murdered-lawyer-ajay-mahato-by-strangulation
update-criminals-murdered-lawyer-ajay-mahato-by-strangulation
झारखंड

(अपडेट) अपराधियों ने अधिवक्ता अजय महतो की गला काटकर की हत्या

news

रामगढ़, 03 अप्रैल (हि.स.)। रामगढ़ व्यवहार न्यायालय के पास एनएच- 23 पर स्थित होटल कृष्णा पैलेस में मिली लाश अधिवक्ता मनोज महतो की थी। अपराधियों ने उनकी गला काटकर हत्या कर दी। मनोज महतो रजरप्पा थाना क्षेत्र अंतर्गत बोरोबिंग-सोराडीह निवासी मोहन महतो के पुत्र थे। एसडीपीओ किशोर कुमार रजक ने बताया कि जांच के दौरान यह पता चला कि मनोज महतो पिछले 48 घंटा से लापता थे। 1 अप्रैल से ही उनके पिता मोहन महतो और अन्य परिजन मनोज की तलाश कर रहे थे। शनिवार की दोपहर मोहन महतो ने रजरप्पा थाने में उनके गुमशुदगी की सूचना भी दर्ज कराई है। जिसमें लिखा गया है कि एक अप्रैल को मनोज महतो घर से निकले थे। उसके बाद भी लौट कर नहीं आए। उनका फोन भी बंद था। घटनास्थल से पुलिस को ना तो मनोज महतो के नाम कि कोई आईडी मिली है और ना ही उनका मोबाइल बरामद हुआ है। अधिवक्ता संघ ने पुलिस को दिया 72 घंटे का अल्टीमेटम लाश की पहचान होते ही जिला अधिवक्ता संघ भी सक्रिय हो गया है। संघ के जिला अध्यक्ष आनंद अग्रवाल ने रामगढ़ जिला प्रशासन को 72 घंटे का अल्टीमेटम भी दिया है। आनंद अग्रवाल ने कहा कि संघ अधिवक्ता की हत्या की घोर निंदा करता है। जिस जगह पर उनकी लाश मिली है वहां से पुलिस दर्जनों बार गुजरती है। लेकिन अपराधियों ने पुलिस की सुरक्षा को धता बताते हुए इतने बड़े वारदात को अंजाम दिया है। अगर 72 घंटे के अंदर पुलिस अपराधियों को गिरफ्तार नहीं करती है, तो पांच अप्रैल को जिला अधिवक्ता संघ कार्यालय में बैठक कर आंदोलन की रणनीति तैयार की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/अमितेश