the-sweetness-of-pears-will-now-come-in-lohardaga-the-stronghold-of-militants
the-sweetness-of-pears-will-now-come-in-lohardaga-the-stronghold-of-militants
झारखंड

उग्रवादियों के गढ़ लोहरदगा में अब आयेगी नाशपाती की मिठास

news

लोहरदगा,14 फरवरी (हि.स.)। लोहरदगा जिला के उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र पेशरार प्रखंड में अब गोलियों की तड़तड़ाहट के स्थान पर नाशपाती की मिठास होगी। जिला प्रशासन द्वारा पेशरार प्रखंड क्षेत्र में विकास के लिए कई तरह की योजनाएं बनायी गयी है और इन्हें धरातल पर उतारा भी जा रहा है। इसी क्रम में रविवार को मनरेगा अंतर्गत बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत रविवार को पेशरार प्रखंड के हेसाग पंचायत के पुनदाग ग्राम में राज्य के मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव, राज्य सभा सांसद धीरज प्रसाद साहू और उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो ने संयुक्त रूप से नाशपाती का पौधा लगाया। मौके पर मंत्री ने कहा कि योजना सरकार की है सरकार आपकी है। योजना सरकार के विचार होते हैं। लेकिन लागू उपायुक्त के द्वारा की गई है। फूल की खेती करें, फूल लगाना शुरू करेंगे तो बाजार की व्यवस्था भी की जाएगी। कृषि का अर्थ सिर्फ धान गेहूं उपजाना नहीं है,धान गेहूं पेट भरने के लिए है। पेट भरने के अलावा अन्य कार्यों के लिए आय की जरूरत होती है। हेमंत सरकार गठबंधन की सरकार जनता की सरकार है। पेशरार से यहां तक दो पुल बनाना है, जो शीघ्र चालू होगा। सरकार का एक साल करोना महामारी में गुजर गया। शेष 4 साल में काम से लोहरदगा का नक्शा बदल जाएगा। पुंदाग से पेशरार जुड़ने से भी यहां का नक्शा बदल जाएगा। रोटी पेट भरने के लिए, कपड़ा तन ढंकने के लिए, पानी जीवन के लिए, मकान रहने के लिए , सड़क, बिजली चाहिए, चिकित्सा के लिए डॉक्टर चाहिए। इन सभी जरूरी चीजों की व्यवस्था सरकार कर रही है। उन्होंने कहा कि सभी को राशन बांटा जाएगा। किसी भी व्यक्ति को भूखा नहीं रहने दिया जाएगा। हर पंचायत में नया 5 चापानल दिया जाएगा, पुराने का मरम्मती की जाएगी। 10 में साड़ी, धोती, लूंगी दी जाएगी। मकान की व्यवस्था, अस्पताल की व्यवस्था कर रहे हैं। हम भी किसान घर से हैं। किसानों को ऋण बैंक देते हैं। किसानों द्वारा ऋण चुकता नहीं कर पाने के कारण किसानों का ऋण माफ करने का काम सरकार कर रहे हैं। खाद, बीज दे रहे हैं। धान का मूल्य 2050 रुपया दे रहे हैं। अप्रैल माह से 60 वर्ष से अधिक के सभी महिला पुरुष को पेंशन देंगे। अब तक 15 लाख लोगों को राशन कार्ड से जोड़ा गया। 9.5 लाख किसानों का कर्ज माफ किया। मनरेगा मजदूरी 194 की जगह 225 मजदूरी बढ़ाया गया है। 31 मजदूरी बढ़ाया। सांसद राज्य सभा धीरज प्रसाद साहू ने कहा कि यहां की महिलाएं बहुत जागरूक हो चुकी है। हमारे बड़े भाई शिव प्रसाद साहू ने जिला बनाया, हम लोग जिले को विकास करने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि सरना कोड को लागू करने की मांग के आवाज को बुलंद करूंगा। उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो ने कहा कि नाशपाती की खेती एक एकड़ में 100 से 125 पौधे लगेंगे। 200 एकड़ में पौधा लगाने है। यह पौधा जम्मू कश्मीर से लाया गया है। आय 3 वर्ष बाद होगी। हिंदुस्थान समाचार/ गोपी-hindusthansamachar.in