the-final-farewell-to-the-martyr-of-godda-with-state-honors
the-final-farewell-to-the-martyr-of-godda-with-state-honors
झारखंड

राजकीय सम्मान के साथ गोड्डा के शहीद को दी गई अंतिम विदाई

news

गोड्डा, 05 मार्च (हि.स.)। पश्चिमी सिंहभूम (चाईबासा) आईईडी विस्फोट में शहीद हुए झारखंड जगुआर के जवान और गोड्डा के सपूत देवेंद्र पंडित को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। शहीद का अंतिम संस्कार शुक्रवार को उसके पैतृक गांव धानाबिंदी से सटे सुंदर डैम पर हुआ। शुक्रवार पूर्वाह्न 11:00 बजे फूलों से सजे वैन से जब शहीद का पार्थिव शरीर उसके घर आ रहा था तो राजाभिठा से ही लोगों का जनसैलाब गाड़ी के पीछे-पीछे चल पड़ा। घर पहुंचते ही देवेंद्र के पिता जीवलाल पंडित दहाड़ मारकर रो पड़े। उसकी मां, पत्नी, बच्चे एवं परिजन गाड़ी देखते ही छाती पीट-पीट कर रोने लगे। इस दौरान शहीद के पार्थिव को आम लोगों के दर्शन के लिए रखा गया। आसपास के दर्जनों गांवों के लोगों ने पुष्प अर्पित कर शहीद को अंतिम विदाई दी। स्कूली बच्चे, गांव की महिलाएं और आईआरबी के जवानों के अलावा स्थानीय जनप्रतिनिधि भी वहां पहुंचे। शहीद की मां सोहिया देवी एवं पत्नी रेखा को जब उसके चेहरे का अंतिम दर्शन कराया गया तो रेखा बेसुध होकर गिर पड़ी, जिसे आईआरबी की महिला बल ने संभाला और घर के अंदर पहुंचाया। स्वजनों की इच्छा पर स्थानीय सुंदर डैम के पास ही शहीद के दाह संस्कार का निर्णय हुआ। शहीद देवेंद्र अमर रहो के नारों के साथ हजारों की संख्या में जुटे लोग उसकी अंत्येष्टि में शामिल हुए। सुंदर डैम पर अंतिम दर्शन के लिए पूर्व से बनाए गए प्रशासन के पंडाल में प्रशासनिक लोगों का जमावड़ा लगा रहा। यहां राजमहल के सांसद विजय हसदा, पूर्व विधायक ताला मरांडी ने भी पुष्पमाला अर्पित कर शहीद को नमन किया। इस गमगीन अवसर पर जिलाधिकारी भोर सिंह यादव, पुलिस अधीक्षक वाईएस रमेश, पुलिस उपाधीक्षक एवं पुलिस विभाग के दर्जनों अधिकारियों ने उन्हें पुष्पांजलि अर्पित करते हुए सलामी दी। इस दौरान पुलिस बल ने कई राउंड फायरिंग कर शहीद जवान को सलामी दी। शहीद देवेंद्र के बड़े पुत्र राहुल ने उन्हें मुखाग्नि देकर रस्म अदा किया। हिन्दुस्थान समाचार/ रंजीत/चंद्र