समाहरणालय के सात अधिकारी-कर्मचारी पाये गये कोरोना पॉजिटिव

समाहरणालय के सात अधिकारी-कर्मचारी पाये गये कोरोना पॉजिटिव
seven-officers-employees-of-the-collectorate-were-found-corona-positive

खूंटी, 08 अप्रैल(हि .स.)। जिला समाहरणालय भवनए खूंटी के विभिन्न कार्यालयों में पदस्थापित सात अधिकारी-कर्मचारी कोरोना पोजिटिव पाये गये हैं। इनपदाधिकारी-कर्मियों के कोरोना वायरस संक्रमण की सैम्पल टेस्टिंग में सात कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित पाये गये। इसके बाद जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की आपात बैठक गुरुवार को हुई, जिसमें सर्वसम्मति से निर्णय लेने के उपरांत अनुमण्डल दंडाधिकारी हेमन्त सती द्वारा आदेश जारी कर समाहरणालय भवन खूंटी को इपिक सेंटर मानते हुए समाहरणलय परिसर के आसपास के क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया। जोन की परिधि में एक स्थान पर किसी भी प्रकार का छोटा या बड़ा जमावड़ा या समूह बनाने प्रतिबंध लगा दिया गया है। साथ ही धार्मिक स्थल ;दर्शनार्थियों के लिए संपूर्ण गतिविधियां बंद रहेंगी। उक्त जोन में सार्वजनिक स्थलों पर थूकना तथा शराबए गुटखाए तंबाकू आदि व क्रय-विक्रय प्रतिबंधित रहेगा। तोरपा रेफरल अस्पताल के एक डाॅक्टर सहित चार लोग कोरोना संक्रमित पाये गये हैं। संपूर्ण जिले में धारा 144 लागू कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में लगातार अप्रत्यशित वृद्धि होने के कारण काफी संख्या में लोग प्रभावित हो रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण की द्वितीय लहर काफी तीव्र गति से बढ़ रही है, तथा अत्यधिक प्रभावशाली भी है। कोरोना वायरस के संक्रमण की महामारी के रोकथामए बचाव के लिए झारखंड सरकार द्वारा संक्रमण की गंभीरता को देखते हुए दिनांक आठ से 30 अप्रैल तक विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन, प्रतिष्ठान, कार्यालय एवं विद्यालयों, महाविद्यालयों, शैक्षणिक तथा कोचिंग संस्थानए धार्मिक स्थलों के संचालन तथा अन्य गतिविधियों कों लेकर प्रशासन द्वारा दिशा-निर्देश निर्गत किए गए हैं। ऐसी गंभीर स्थिति से निपटने एवं लोगों के स्वास्थ्य रक्षा एवं झारखंड सरकार द्वारा निर्गत आदेशों का अनुपालन सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से अनुमण्डल दंडाधिकारी हेमन्त सती द्वारा पूरे खूंटी जिले में दंड प्रक्रिया के तहत आदेश जारी किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल