सरयू ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, कई बिंदुओं पर ध्यान आकृष्ट कराया

सरयू ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, कई बिंदुओं पर ध्यान आकृष्ट कराया
saryu-wrote-a-letter-to-the-chief-minister-drew-attention-to-many-points

रांची, 11 जून (हि. स.)। पूर्व मंत्री और विधायक सरयू राय ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखा है। यह पत्र पलामू टाईगर रिजर्व के बेतला भाग-एक और भाग-दो के बीचों-बीच एक लम्बी दीवार खड़ा करने के संबंध में है। पत्र के माध्यम से उन्होंने मुख्यमंत्री का ध्यान आकृष्ट कराया है। जिसमें पलामू टाईगर रिजर्व के डाल्टनगंज-महुआडाँड़ राज्य उच्च पथ से लगे बेतला रेंज के भाग-एक और भाग-दो के बीच वन विभाग द्वारा एक लम्बी दीवार खड़ी कर दी गई है। इसका काम अभी भी जारी है। उन्होंने कहा है कि पलामू टाईगर रिजर्व में टाईगर का तो नामोनिशान नहीं है, फिर भी हाथी, गौर, चीतल आदि अन्य वन्यजीवों की उपस्थिति यहाँ दर्ज की गई है। इनका भ्रमण बेतला भाग-एक से भाग-दो के बीच होते रहता है। वन विभाग द्वारा खड़ी की गई लम्बी दीवार के कारण यह भ्रमण रूक जाएगा और वन्यजीवों तथा मनुष्य के बीच संघर्ष की संभावना बढ़ जाएगी। उन्होंने कहा है कि दीवार खड़ी करके बेतला वन क्षेत्र के भाग-एक और भाग-दो को अलग करने की कोई योजना न तो पलामू टाईगर रिजर्व के प्रबंधन कार्य में है और न ही राज्य सरकार ने इस तरह की किसी योजना की स्वीकृति दी है। ऐसा लगता है कि वन विभाग के अधिकारी मगरूर हो गये है और नियमों, अधिनियमों में निहित प्रावधान की उपेक्षा कर इसके विपरीत कार्य कर रहे हैं। पत्र के माध्यम से उन्होंने निवेदन किया है कि वन संरक्षण विरोधी एवं वन्यजीव संरक्षण विरोधी उपर्युक्त विषयक कार्रवाई को तत्काल स्थगित किया जाय। खड़ी की गई दीवार को हटाया जाय और ऐसा अनियमित कार्य करने वालों एवं इसकी स्वीकृति देनेवालों के विरूद्ध विधिसम्मत कार्रवाई की जाय। राय ने पत्र की प्रति मुख्य सचिव और वन विभाग के सचिव को भी दी गई है। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण