सादे कपड़े में पुलिस पदाधिकारी प्राइवेट और सरकारी हॉस्पिटल का करे औचक निरीक्षण: हाईकोर्ट

सादे कपड़े में पुलिस पदाधिकारी प्राइवेट और सरकारी हॉस्पिटल का करे औचक निरीक्षण: हाईकोर्ट
police-officials-in-plain-clothes-should-conduct-surprise-inspection-of-private-and-government-hospitals-high-court

29/04/2021 रांची, 29 अप्रैल (हि.स.)। झारखंड हाईकोर्ट में कोरोना से जुड़ी जनहित याचिका पर गुरुवार को सुनवाई हुई। चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की खंडपीठ में सुनवाई के दौरान राज्य सरकार की तरफ से महाधिवक्ता राजीव रंजन अदालत के समक्ष उपस्थित हुए। उन्होंने हाईकोर्ट को बताया कि राज्य सरकार ऑक्सीजन वेट बढ़ाने और अन्य चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत है और इसकी व्यवस्था भी कर दी गई है। वहीं, ऑक्सीजन सिलेंडर और अन्य महत्वपूर्ण दवाइयों की कालाबाजारी से जुड़ी खबरों पर हाईकोर्ट ने रांची एसएसपी से जांच रिपोर्ट मांगी है। झारखंड के महाधिवक्ता राजीव रंजन ने कोर्ट को बताया है कि ऑक्सीजन सिलेंडर और अन्य महत्वपूर्ण जीवन रक्षक दवाइयों की कालाबाजारी की खबरों पर प्रशासन की कड़ी नजर है और इसकी सूचना मिलने पर सख्त कार्रवाई की जा रही है । भविष्य में भी ऐसी जगह सूचनाएं मिली तो प्रशासन के द्वारा कड़ी कार्रवाई की जाएगी। हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया है कि ऑक्सीजन सिलेंडर एवं कोरोना पीड़ितों को मिलने वाली जीवन रक्षक दवाइयों की कालाबाजारी रोकने के लिए सीआईडी से मॉनिटरिंग करवायी जाये ।इसके साथ ही हाईकोर्ट में रांची पुलिस को यह निर्देश दिया है कि सादे कपड़े में पुलिस पदाधिकारी समय-समय पर प्राइवेट और सरकारी हॉस्पिटल में औचक निरीक्षण करते रहें, ताकि कालाबाजारी करने वालों पर लगाम लगाई जा सके। हिन्दुस्थान समाचार/ विकास