please-bring-to-our-notice-if-we-get-the-information-wrong-with-the-record-director
please-bring-to-our-notice-if-we-get-the-information-wrong-with-the-record-director
झारखंड

रिकॉर्ड के साथ गड़बड़ी की जानकारी मिले तो हमारे संज्ञान में लाएं :निदेशक

news

रांची, 17 फरवरी (हि.स.)। झारखंड के भू-अर्जन, भू अभिलेख एवं परिमाप के निदेशक कर्ण सत्यार्थी की अध्यक्षता में बुधवार को डीसीएलआर मॉड्यूल का प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण के दौरान पीपीटी के माध्यम से सभी को डीसीएलआर मॉड्यूल के कार्यप्रणाली के बारे में पूरी जानकारी दी गई। मौके पर सत्यार्थी ने बताया कि ऑनलाइन म्यूटेशन के पश्चात उसमें हुई त्रुटि के निराकरण के लिए डीसीएलआर के समक्ष ऑनलाइन अपील किए जाने संबंधी डीसीएलआर मॉड्यूल को झारभूमि अंतर्गत क्रियान्वित किया गया है। उन्होंने सभी अंचल अधिकारियों से आरसीएमएस के बारे में पूछा। उन्होंने कहा कि किसी सीओ ने इसका टेस्ट किया या नहीं? उन्होंने कहा कि डमी आईडी बनाकर जांच करें, सॉफ्टवेयर सही तरीके से काम कर रहा है या नहीं?उन्होंने कहा कि फीचर्स को कैसे इंप्रूव किया जा सकता है। इसे लेकर किसी के पास सुझाव है तो उनका स्वागत है। इस दौरान कर्ण सत्यार्थी ने अंचल अधिकारियों से एनजीडीआरएस, वसुधा, करेक्शन और रेंट में किसी तरह का टेक्निकल इश्यू आ रहा है या नहीं इसकी जानकारी ली। सत्यार्थी ने कहा के राजस्व के मामले में रिकॉर्ड के साथ अगर गड़बड़ी की जानकारी मिलती है तो यथाशीघ्र हमारे संज्ञान में लाएं। हमारा प्रयास है कि नागरिकों को हमारी तरफ से बेस्ट मिले। उन्होंने कहा कि डीसीएलआर मॉड्यूल को लेकर किसी तरह की समस्या, सुझाव या असमंजस की स्थिति है तो उन्हें कॉल करें। हिन्दुस्थान समाचार/ विकास-hindusthansamachar.in