भगवान बिरसा मुण्डा के पद चिन्हों पर चलने की आवश्यकता : हेमंत सोरेन

भगवान बिरसा मुण्डा के पद चिन्हों पर चलने की आवश्यकता : हेमंत सोरेन
need-to-follow-in-the-footsteps-of-lord-birsa-munda-hemant-soren

रांची, 09 जून (हि. स.)। मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने बुधवार को सीएम आवासीय कार्यालय में धरती आबा भगवान बिरसा मुण्डा की 121वीं पुण्यतिथि के मौके पर उनकी तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हें नमन किया। सोरेन ने कहा कि शोषित और वंचितों के अधिकारों के लिए शोषकों के खिलाफ उलगुलान छेड़ने वाले धरती आबा भगवान बिरसा मुण्डा जी के पुण्यतिथि पर उन्हें शत-शत नमन। उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि हमारे राज्य को ऐसे वीर महापुरुषों ने मार्गदर्शन किया है। आज हमसभी को देश और समाज के लिए कार्य करने वाले धरती आबा भगवान बिरसा मुण्डा के पद चिन्हों पर चलने की आवश्यकता है। हमारी सरकार भगवान बिरसा मुण्डा के सपनों का राज्य बनाने के लिए कटिबद्ध है। उनके विचार और आदर्शों पर चलकर खुशहाल झारखंड बनाना है। सोरेन ने कहा कि शोषित और वंचितों के अधिकार के लिए धरती आबा ने अपना सर्वस्व न्योछावर किया। अंग्रेजो के खिलाफ लोहा लेकर देश को आजाद कराने में धरती आबा ने अपनी महती भूमिका निभाई। भगवान बिरसा मुण्डा के बलिदान को देश कभी नहीं भूलेगा। इनका अदम्य साहस, समर्पण और बलिदान हमसभी देशवासियों को सदैव प्रेरित करता रहेगा। धरती आबा ने समाज में बीमारियों को लेकर फैले अंधविश्वास भी मिटाने का काम किया था। आज धरती आबा से प्रेरणा लेकर हमें कोरोना को दूर भगाना है। इस मौके पर मंत्री सत्यानंद भोक्ता, विधायक दीपिका पांडेय सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे आदि ने भी धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा के तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण