Journalist son murder case, aunt murdered along with her lover, arrested
Journalist son murder case, aunt murdered along with her lover, arrested
झारखंड

पत्रकार पुत्र हत्याकांड का उद्भदेन , चाची ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की थी हत्या, गिरफ्तार

news

खूंटी, 09 जनवरी (हि.स.)। खूंटी जिले के पत्रकार अनिल मिश्रा के पुत्र संकेत मिश्रा हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर लिया है। पुलिस का कहना है कि मृतक संकेत मिश्रा का अपनी चाची के साथ ही अवैध संबंध था और 33 वर्षीय चाची ने ही घरेलू नौकर बिरसा मुंडा के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। चाची का नौकर बिरसा से भी अनैतिक संबंध था। जानकारी के अनुसार मृतक संकेत मिश्रा ने अपनी चाची से तीन हजार रुपये की मांग की, तो उसकी चाची ने प्रेमघाघ पिकनिक स्थल पर बुलाया। इस दौरान बिरसा कुछ सामान लाने गया, तो किसी बात को लेकर उसका चाची से विवाद हो गया। इस बीच नौकर भी मौके पर आ गया और उसने मौका देखकर संकेत मिश्रा पर हमला कर दिया। इस मारपीट के दौरान धारदार हथियार से संकेत मिश्रा की हत्या कर दी गयी। उसके बाद नौकर बिरसा ने खुद का पहना जींस और जैकेट को पेट्रोल से भींगा कर शव को जलाकर पहचान छिपाने की कोशिश की। मामला सामने आने के बाद पुलिस छानबीन में यह बात सामने आयी कि मृतक के मोबाइल पर उसकी चाची ने ही कई बार फोन किया था और दोनों के बीच पहले भी घंटों बात हुआ करती थी। यह बात सामने आने के बाद पुलिस ने मृतक की चाची को थाने में बुलाया, लेकिन चाची थाने में आने की जगह बिरसा मुंडा के साथ पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ के जसपुर भाग गयी। लेकिन पुलिस ने छत्तीसगढ़ पुलिस उसे गिरफ्तार कर लिया है। एसपी ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीपीओ तोरपा ओम प्रकाश तिवारी के नेतृत्व में आठ सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया है। पुलिस ने गहन, तकनीक और वैज्ञानिक अनुसंधान के क्रम में कांड की मुख्य आरोपी मृतक की चाची को छत्तीसगढ़ के जसपुर जिले के कनकुरी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार दोनों अभियुक्तों ने अपना-अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। आरोपियों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त हथियार के अलावा दो मोबाइल और मोटरसाईकिल को भी जब्त किया गया है। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा पहुंचे पत्रकार अनिल मिश्रा के घर इससे पहले शनिवार सुबह जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा तोरपा पहुंचे और शोकाकुल पत्रकार अनिल मिश्रा समेत परिजनों से मिले और सांत्वना दी। छोटे बेटे संकेत मिश्रा की हत्या को लेकर दो दिन बीतने के बाद भी परिजनों के आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहा। अनिल मिश्रा बार-बार बेटे की हत्या की रोंगटे खड़े करने वाले दृष्टांत को बतलाकर रो रहे थे। शोकाकुल अनिल मिश्रा, बहू बेटा समेत परिवार के सभी इष्ट कुटुम्ब को केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने दुःख दर्द सुना और परिजनों को ढ़ाढ़स बंधाया। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के साथ तोरपा विधायक कोचे मुंडा, सांसद के जिला प्रतिनिधि मनोज कुमार समेत अन्य भाजपा के कार्यकर्ता भी मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/ विकास-hindusthansamachar.in