जैक ने शुरू की मैट्रिक और इंटरमीडिएट के रिजल्ट प्रकाशित करने की तैयारी

जैक ने शुरू की मैट्रिक और इंटरमीडिएट के रिजल्ट प्रकाशित करने की तैयारी
jack-started-preparing-to-publish-the-results-of-matriculation-and-intermediate

रांची, 20 जून (हि. स.)। झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) ने मैट्रिक और इंटरमीडिएट के रिजल्ट प्रकाशित करने की तैयारी शुरू कर दी है। राज्य में मैट्रिक और इंटरमीडिएट का रिजल्ट तैयार करने का फॉर्मूला तय होने के बाद जैक ने रिजल्ट प्रकाशित करने की तैयारी शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार स्कूलों एवं कॉलेजों द्वारा विद्यार्थियों का इंटरनल असेसमेंट किया जा रहा है। इसका अंक अपलोड होते ही रिजल्ट जारी किया जायेगा। बताया जाता है कि अगर सब कुछ ठीक रहा, तो 20 जुलाई तक रिजल्ट जारी हो सकता है। उल्लेखनीय है कि झारखंड में मैट्रिक में 4.32 लाख और इंटरमीडिएट में 3.31 लाख परीक्षार्थी हैं। जानकारी के अनुसार जैक द्वारा सीबीएसइ से पहले मैट्रिक और इंटरमीडिएट का रिजल्ट जारी करने की तैयारी की जा रही है। अगले सप्ताह परीक्षार्थियों के इंटरनल असेसमेंट का अंक अपलोड करने की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी। जैक द्वारा इसके लिए पोर्टल तैयार किया जा रहा है। स्कूल और कॉलेज को परीक्षार्थियों के इंटरनल असेसमेंट का अंक पोर्टल पर अपलोड करना होगा। मैट्रिक और इंटरमीडिएट का रिजल्ट तैयार करने के लिए तय मापदंड के अनुरूप नौवीं और 11वीं की बोर्ड परीक्षा के आधार पर 80 फीसदी अंक दिये जायेंगे। 20 अंक स्कूल और कॉलेज द्वारा किये गये इंटरनल असेसमेंट के आधार पर दिये जायेंगे। जिन विषयों में प्रायोगिक परीक्षा होती है, उनमें इंटरनल असेसमेंट की जगह प्रायोगिक परीक्षा के अंक दिये जायेंगे। इस संबंध में जैक के अध्यक्ष डॉ अरविंद प्रसाद सिंह ने बताया कि जैक द्वारा मैट्रिक और इंटरमीडिएट का रिजल्ट जुलाई में जारी कर दिया जायेगा। विद्यार्थियों को नामांकन एवं आगे की पढ़ाई में कोई परेशानी नहीं हो, इसके लिए काउंसिल द्वारा समय पर रिजल्ट जारी करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इंटरनल असेसमेंट के अंक की जानकारी समय पर नहीं देने से संबंधित स्कूल या कॉलेज के विद्यार्थियों का रिजल्ट बाधित हो सकता है। ऐसे में रिजल्ट प्रकाशन नहीं होने के लिए संबंधित स्कूल और कॉलेज जिम्मेदार होंगे। उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षा रद्द कर दी थी। इसके बाद उन्होंने शिक्षा विभाग को निर्देश दिया था कि जल्द से जल्द मैट्रिक और इंटरमीडिएट का रिजल्ट जारी किया जाए, ताकि विद्यार्थियों को किसी तरह की परेशानी ना हो। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण

अन्य खबरें

No stories found.