विद्यार्थियों के भविष्य को लेकर सरकार चिंतित : बादल पत्रलेख

विद्यार्थियों के भविष्य को लेकर सरकार चिंतित : बादल पत्रलेख
government-worried-about-the-future-of-students-badal-patralekh

रांची, 20 जून (हि.स.)। प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन (पासवा) की झारखंड इकाई ने रविवार को एकदिवसीय राज्यस्तरीय वर्चुअल सम्मेलन का आयोजन किया। इसका उदघाटन राज्य के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने किया। इस अवसर पर कृषिमंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार पिछले डेढ़ वर्ष से अधिक समय से स्कूल-कॉलेज सभी शिक्षण संस्थान बंद है। ऐसे हालात में सरकारी स्कूलों के साथ ही निजी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के भविष्य को लेकर भी सरकार चिंतित है। वह लगातार इस संबंध में मुख्यमंत्री, वित्तमंत्री, शिक्षामंत्री एवं ग्रामीण विकास मंत्री के साथ चर्चा करते रहते है। स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के वैक्सीनेशन को लेकर भी केंद्र सरकार और देश के वैज्ञानिक लगातार काम कर रहे है। इसके अलावा कोचिंग में पढ़ने वाले विद्यार्थियों का भी शत-प्रतिशत टीकाकरण हो जाने पर आवश्यक छूट प्रदान की जा सकती है। कोरोना काल में विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों को असुविधा हुई है, यह बात सरकार के संज्ञान में है। इसके बावजूद स्कूल प्रबंधन की ओर से ऑनलाइन माध्यम से बच्चों को शिक्षा प्रदान किया जा रहा है, इसके लिए सरकार उनके प्रति आभार व्यक्त करती है। पासवा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्मायल अहमद ने कहा कि कोविड-19 के कारण पिछले डेढ़ वर्षों से निजी स्कूल बंद रहने के कारण इन शिक्षण संस्थानों में पढ़ाने वाले कई शिक्षक पैसे के अभाव में गुजर गये। कई निजी स्कूल बंद हो गये। केंद्र और राज्य सरकार की अब यह जिम्मेवारी बनती है कि इन स्कूलों को बचाये। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से भी आग्रह है कि इस दिशा में राज्य सरकार आवश्यक पहल करें। पासवा के प्रदेश अध्यक्ष आलोक कुमार दूबे ने कहा कि निजी स्कूलों, छात्रों और अभिभावकों को आपसी तालमेल के साथ पठन पाठन को आगे बढ़ाना है। महामारी में कई निजी विद्यालय बंदी के कगार पर हैं। निजी स्कूलों के खिलाफ वातावरण बनाया जा रहा है जो उचित नहीं है। शिक्षा के क्षेत्र में आज भी उम्मीद की रौशनी निजी स्कूलों में है। उन्होंने सभी जिला अध्यक्षों को कोरोना काल में भी बच्चों को आनलाइन पढाने के लिए धन्यवाद दिया है। इस मौके पर पासवा के महासचिव लाल किशोर नाथ शाहदेव और सभी जिलों के जिलाध्यक्ष शामिल हुए। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण

अन्य खबरें

No stories found.