giridih-mp-discusses-solutions-to-rail-related-problems-and-increasing-facilities
giridih-mp-discusses-solutions-to-rail-related-problems-and-increasing-facilities
झारखंड

गिरिडीह सांसद ने रेल संबंधी समस्याओं के समाधान व सुविधाएं बढ़ाने पर की चर्चा

news

रांची, 17 फरवरी (हि. स.)। गिरिडीह के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र से जुड़े रेल संबंधी समस्याओं के समाधान को लेकर जहां रेलवे के अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराया, वहीं ज्यादा से ज्यादा रेल सुविधा बढ़ाने को लेकर भी चर्चा की। उन्होंने खानूडीह स्टेशन पूर्वी केबिन के पास वर्षों से लंबित आरओबी का निर्माण कराने पर जोर दिया। साथ खानूडीह में नंदन कानन (12815, 12816 ) का ठहराव हो, इसे सुनिश्चित करने को कहा। कोलकाता स्थित होटल ताज बंगाल में आयोजित दक्षिण पूर्व रेलवे सांसदों की मंडलीय समिति की बैठक में उन्होंने खड़कपुर एवं आद्रा मंडल के रेल अधिकारियों को आद्रा- खहनूडीह मेमु ( 68071) का गोमोह तक विस्तार एवं वापसी में आद्रा तक विस्तार करने, बोकारो हावड़ा (58014) को भाया गोमोह - खानुडीह तक चलाये जाने,खानुडीह स्टेशन रोड की मरम्मत कराने के साथ-साथ निर्मित नालियों का जीर्णोद्धार कराने व खानूडीह स्टेशन के प्लेटफार्म में एक और यात्री शेड का निर्माण कराने को कहा। चौधरी ने झामाड़ कार्यालय बाघमारा से स्टेशन रोड तक करीब 350 मीटर पक्की सड़क निर्माण के लिए एनओसी देने, खरिओ स्टेशन में यात्री शेड का निर्माण और प्रकाश की सुविधा बहाल करने, दुग्धो, नारायणपुर, गोपालपुर, तिलैया, घोराठी एवं बसवरिया के लोगों के आवागमन की सुविधा के लिए फुट ओवरब्रिज से आरओबी का निर्माण घोराठी स्थित पेट्रोल पंप से पिंटू शर्मा के घर के बीच उपलब्ध रेलवे जमीन पर कराने की बात कही। साथ ही कहा कि इससे पांच हजार से भी ज्यादा लोगों को लाभ मिल सकेगा। इसी क्रम में उन्होंने खानुडीह स्टेशन के उत्तरी दिशा में पक्की सड़क का निर्माण कराने, स्टेशन में पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करने और खानुडीह स्टेशन से गोमो तक रेल का दोहरीकरण करने की बात रखी। इसके साथ ही उन्होंने प्लेटफार्म की लंबाई के समानांतर में बाड़ लगाने, मलकेरा स्टेशन में फुट ओवरब्रिज का निर्माण कराने, लोयाबाद में एक और प्लेटफार्म का निर्माण कराने के साथ-साथ फुट ओवरब्रिज व यात्री शेड का निर्माण कराने की आवश्यकता जतायी। उन्होंने गाड़ी संख्या 1243 तथा 228 7 का परिचालन कराने और मेमु आठ डिब्बों की नयी रेक उपलब्ध कराकर आद्रा-खानुडीह के फेरे बढ़ाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने की बात कही। साथ ही यह भी कहा कि खासकर शाम चार बजे से आद्रा से खुलने पर भाग करकेंद स्टेशन से बड़ी संख्या में छात्र, दिहाड़ी मजदूर अन्य कामगार लाभान्वित होंगे। बैठक में दक्षिण पूर्व रेलवे के जीएम, एसडीजीएम, प्रिंसिपल फाइनेंस एडवाइजर, प्रिंसिपल चीफ इंजीनियर, प्रिंसिपल चीफ ऑपरेशन मैनेजर एवं चीफ एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर सहित कई अधिकारी शामिल हुए। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण-hindusthansamachar.in