कोविड केंद्र खोलने की मांग को लेकर पूर्व मंत्री 5 को करेंगे अनशन

कोविड केंद्र खोलने की मांग को लेकर पूर्व मंत्री 5 को करेंगे अनशन
former-minister-will-fast-on-5-to-demand-to-open-kovid-center

बोकारो, 03 मई (हि.स.)। वेदांता इलक्ट्रो स्टील के सौजन्य से सौ बेड का कोविड सेंटर चंदनकियारी में खोलने के मांग को लेकर 5 मई को अनशन होगा। इसकी लिखित सूचना पूर्व मंत्री उमाकान्त रजक ने सोमवार को जिला प्रशासन को दिया है। पत्र में उन्होंने कहा कि इस्पात कारखाना वेदांता इलेक्ट्रो स्टील के चंदनकियारी में संचालन होने से वहां अलग अलग क्षेत्र से मजदूर एवं उत्पादन के मार्केटिंग के लिए दूसरे प्रदेशों के लोगों का प्रत्येक दिन चंदनकियारी आना जाना होता है। चंदनकियारी में कोविड संक्रमण का फैलाव का बड़ा कारण है। यह जानते हुए भी बोकारो जिला प्रशासन ने वेदांता के सौजन्य से लगने वाला 100 बेड का कोविड सेन्टर को चंदनकियारी में नहीं लगाकर बोकारो के खुला मैदान में टेंट में खोलने का निर्णय किया है। यह चंदनकियारी का हक मारी है। राजस्व का क्षति है और टेंट में कोविड सेंटर खोलकर दुर्घटना को आमंत्रित किया जाने वाला कृत्य है। इस सम्बंध में मुख्यमंत्री से हस्तक्षेप के लिए पत्र लिखा गया है। प्रधानमंत्री, राज्यपाल और मुख्यसचिव को प्रतिलिपि भेजी गई है। उन्होंने कहा कि चंदनकियारी सुदूर ग्रामीण क्षेत्र है। वहां साधारण बीमारी का इलाज का कोई व्यवस्था नहीं है। चंदनकियारी के कोविड मरीजों को वेदांता के सौजन्य से बनने वाले कोविड सेंट्रर पर पहला हक़ है। इससे कोई सभ्य प्रशासन मुकर नहीं सकता है। चंदनकियारी में कई सरकारी भवन कोविड सेंटर में तुरंत चालू करने के लिए उपलब्ध भी है। उन्होंने कहा कि चंदनकियारी के कोविड सेंटर के हक मारी के खिलाफ कोरोना प्रोटोकॉल के तहत सेक्टर 9 आवास में अकेले अनशन पर रहूंगा। मांग अनसुनी होगी तो जनता का प्रतिकार शासन को झेलना पड़ेगा। हिन्दुस्थान समाचार/ अनिल कुमार/चंद्र