हलकान हैं किसान, पेंशन विहीन दिव्यांग : विधायक

हलकान हैं किसान, पेंशन विहीन दिव्यांग : विधायक
farmers-are-distrustful-pension-less-disabled-mla

04/05/2021 रांची, 04 मई (हि.स.)।आजसू पार्टी के केंद्रीय महासचिव और गोमिया विधायक लंबोदर महतो ने कहा है कि कोरोना महामारी का प्रकोप गांव के खेत खलिहानों तक पहुंच गया है। स्थिति यह हो गई है कि कोरोना से संक्रमित हो कर किसान इलाज के अभाव में दम तोड़ रहे हैं। किसानों के सामने आर्थिक अभाव की समस्या आ पड़ी है। किसानों में इस बात को लेकर मलाल है कि उन सबों को अब तक धान बिक्री का भुगतान सरकार की ओर से नहीं किया गया है। विधायक ने मंगलवार को कहा कि किसानों ने चार माह पूर्व विभिन्न धान अधिप्राप्ति केंद्रों पर धान को बेचा लेकिन उन्हें अब तक उसका भुगतान नहीं हुआ है। यह स्थिति पूरे राज्य भर की है। उन्होंने कहा कि यह बात सरकार में बैठे लोगों को समझना चाहिए कि किसानों की मुख्य खेती धान है और बेचे गए धान का अब तक किसानों को मूल्य नहीं मिला है। यह निश्चित रूप से किसानों को संकट में डालने के बराबर है। वह भी तब जब कोरोना का कहर बना हुआ है। इससे सरकार की कार्यप्रणाली का भी पता चलता है। किसान कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। पैसे के अभाव में अपना इलाज नहीं करा पा रहे हैं और अंततः अपनी जान गवां रहे हैं। इसी प्रकार राज्य भर के दिव्यांगों को पिछले नवंबर माह से पेंशन का भुगतान नहीं हुआ है। दिव्यांग आर्थिक अभाव के चलते कठिनाई में जीने को विवश है। सरकार को इन विषयों पर तुरंत संवेदनशील होकर किसान और दिव्यांगों के हित में सोचना चाहिए। किसानों को जहां धान का मूल्य मिलना चाहिए। वहीं, दिव्यांगों के बीच भी पेंशन का भुगतान होना चाहिए। यह मौजूदा समय में अति आवश्यक हो गया है। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण/चंद्र