अस्पताल में मरीज की मौत पर परिजनों हंगामा, डॉक्टर-कर्मचारी फरार

अस्पताल में मरीज की मौत पर परिजनों हंगामा, डॉक्टर-कर्मचारी फरार
family-uproar-over-doctor39s-death-doctor-employee-absconding

धनबाद, 14 अप्रैल (हि.स.)। सरायढेला थाना क्षेत्र अंतर्गत एक निजी अस्पताल में बुधवार को मरीज की मौत के बाद जमकर हंगामा हुआ। मरीज के परिजनों का आरोप है कि वेंटिलेटर पर नहीं रखे जाने के चलते मरीज की मौत हो गई। मृतक के परिजनों का कहना था कि दुमका निवासी आंनद महतो (55) को सांस लेने में तकलीफ थी। उन्हें सरायढेला स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल प्रबंधन ने कोरोना इलाज की सुविधा देने का आश्वासन दिया था। साथ ही वेंटिलेटर भी उपलब्ध कराने की बात कही थी। इसको लेकर अस्पताल प्रबंधन ने मोटी रकम भी जमा करवाई थी लेकिन अस्पताल में वेंटिलेटर की सुविधा नहीं दी गई। मृतक के परिजनों के मुताबिक इलाज के दौरान अस्पताल के डॉक्टर मरीज को ले जाने की बात कहने लगे लेकिन मरीज की पहले ही मौत हो चुकी थी। इस पर मरीज के परिजनों ने जमकर हंगामा किया। हंगामा होता देख अस्पताल के डॉक्टर और स्टाफ भाग गए। हंगामे की सूचना पर सरायढेला थाने की पुलिस निजी अस्पताल पहुंची और मामला शांत कराया। हिन्दुस्थान समाचार/ राहुल