exercise-to-make-water-testing-lab-hitec-started
exercise-to-make-water-testing-lab-hitec-started
झारखंड

वाटर टेस्टिंग लैब को हाइटेक बनाने की कवायद शुरू

news

पाकुड़, 05 अप्रैल(हि.स.)। वाटर टेस्टिंग लैब को हाइटेक बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है।इसके लिए जिला प्रशासन ने विभाग को भवन भी उपलब्ध करा दिया है। यह जानकारी पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता सुनील कुमार ने दी। उन्होंने बताया कि इसके मद्देनजर लैब में कई तरह के उपकरण लगवाए जाएँगे और उसे नेशनल एक्रिडिएशन बोर्ड फाॅर टेस्टिंग एंड कैलिब्रेशन लेबोरेट्रीज से मान्यता दिलायी जाएगी।नए उपकरणों के लग जाने से पेयजल व सीवरेज के पानी के टेस्टिंग का दायरा बढ़ने के साथ ही सैंपल्स की सटीक रिपोर्ट भी मिलने लगेगी।साथ ही उन्होंने बताया कि फिलहाल जिला वाटर टेस्टिंग लैब में जीवाणु तत्व, रासायनों की मात्रा के अलावा पानी की हार्डनेस, टीडीएस, क्लोराइड,फ्लोराइड, पीएच आदि की जांच कर उसे एनएबीएल लैब में अंतिम जांच के लिए भेजा जाता है।तभी सटीक रिपोर्ट मिल पाती।जिसमें काफी समय लग जाता है।उन्होंने बताया कि यहांं कार्यरत लैब को अपग्रेड करने के लिए इस्टीमेट तैयार कर अंतिम स्वीकृति के लिए भेजा गया है। हिन्दुस्थान समाचार/ रवि