हाथी ने दंपती को कुचल कर मार डाला, ग्रामीणों ने रेंजर को बनाया बंधक

हाथी ने दंपती को कुचल कर मार डाला, ग्रामीणों ने रेंजर को बनाया बंधक
elephant-crushed-the-couple-to-death-villagers-held-ranger-hostage

जामताड़ा, 20 जून (हि. स.)। फतेहपुर थाना क्षेत्र के बुनीडीह पंचायत अंतर्गत मलडीहा गांव के बाजेपड़ा टोला में रविवार हाथियों के झुंड से बिछड़े एक जंगली हाथी ने एक दंपत्ति को कुचल कर मार डाला। मृतक दंपति जियालाल पावरिया (60) और सोनामुनि टुडू (55) हैं। दोनों रविवार को घर से बाहर निकले थे। उसी वक्त एक जंगली हाथी ने दोनों पर हमला किया और कुचल कर मार डाला। घटना के बाद हाथी जंगल की ओर भाग गया। जंगल गांव के करीब होने से हाथी अपना डेरा जमाये हुए हैं। घटना की सूचना मिलते ही फतेहपुर थाना प्रभारी सुमन कुमार दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे एवं दोनों शव को अपने कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल जामताड़ा भेज दिया। वन विभाग की रेंजर प्रतिमा कुमारी घटनास्थल पर सूचना देने के दो घंटे बाद पंहुची। रेंजर के पहुंचने के बाद ग्रामीण उग्र हो गये और हंगामा करना शुरू कर दिये। तत्काल रेंजर के द्वारा दस हजार रुपया सहयोग अंतिम संस्कार के लिए मृतक के परिजनों को दिया गया। लेकिन बाद मे उग्र ग्रामीणों ने रेंजर को लगभग तीन घंटे तक बंधक बना के रखा। उग्र ग्रामीणों ने वन विभाग से हाथी को क्षेत्र से भगाने की मांग को लेकर अड़े थे। मामले को टूल पकड़ता देख घटनास्थल पर प्रमुख किरण कुमारी बेसरा, प्रखंड विकास पदाधिकारी मुकेश कुमार बाउरी एवं आंचलाधिकारी पंकज कुमार पहुंचे। बीडीओ, सीओ प्रमुख व थाना प्रभारी के बहुत समझाने एवं मृतक के परिजन को सभी तरह की सरकारी सुविधा और मुआवजा का लाभ देने के आश्वासन पर ही ग्रामीण शांत हुए। इसके बाद ग्रामीणों ने रेंजर प्रतीमा कुमारी को छोड़ा। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण

अन्य खबरें

No stories found.