प्लाज्मा थेरेपी से संक्रमित मरीजों का होगा इलाज, कोरोना से निर्णायक लड़ाई में होगी सुविधा: बन्ना गुप्ता
प्लाज्मा थेरेपी से संक्रमित मरीजों का होगा इलाज, कोरोना से निर्णायक लड़ाई में होगी सुविधा: बन्ना गुप्ता
झारखंड

प्लाज्मा थेरेपी से संक्रमित मरीजों का होगा इलाज, कोरोना से निर्णायक लड़ाई में होगी सुविधा: बन्ना गुप्ता

news

रांची, 24 जुलाई ( हि.स.)। झारखंड वासियों के लिए इस संकट की घड़ी में एक अच्छी खबर यह है कि अब राज्य में कोरोना के कहर को रोकने के लिए प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत सरकार करने जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ. नितिन मदन कुलकर्णी ने रिम्स के निदेशक डॉ. मंजू गाड़ी को पत्र लिखकर यह सूचित किया है कि रिम्स में प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत की जाएगी। रिम्स में प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत 28 जुलाई से की जाएगी, जिसका शुभारंभ राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन खुद करेंगे। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी तरह की तैयारियां पूरी कर ली गई है। इसके साथ ही रिम्स निदेशक को भी इस बाबत सभी तरह की तैयारियां को पूर्ण करने का दिशा-निर्देश जारी किया गया हैं। स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने शुक्रवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि प्लाज्मा थेरेपी के माध्यम से कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों का इलाज करने की प्रक्रिया कई राज्यों के द्वारा अपनायी जा रही है। यह प्रयोग कई मरीजों पर सफल भी हो रहा है। इसीलिए आईसीएमआर ने भी इस प्रयोग को ट्रायल के तौर पर इस्तेमाल करने की इजाजत दी है। प्लाज्मा थेरेपी के माध्यम से मरीजों के ठीक होने के बेहतर दर को देखते हुए झारखंड सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने अब यह तय किया है कि राजधानी में भी कोरोना के मरीजों का इलाज प्लाज्मा थेरेपी के माध्यम से किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इससे कोरोना से निर्णायक लड़ाई लड़ने में सुविधा होगी जिसका फायदा राज्य की जनता को मिलेगा।उन्होंने बताया कि इससे तेजी से इलाज संभव होगा और स्वस्थ होने की संख्या में भी इजाफा होगा। हिंदुस्थान समाचार /विनय/सबा एकबाल-hindusthansamachar.in