concrete-arrangements-will-be-made-for-saraswati-puja-magistrates-and-police-forces-will-be-deployed
concrete-arrangements-will-be-made-for-saraswati-puja-magistrates-and-police-forces-will-be-deployed
झारखंड

सरस्वती पूजा को लेकर सुरक्षा के रहेंगे पुख्ता इंतजाम, दंडाधिकारी और पुलिस बल रहेंगे तैनात

news

रांची, 15 फरवरी (हि.स.)। राजधानी रांची में सरस्वती पूजा को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इस दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर दंडाधिकारी के नेतृत्व में पुलिस बल की तैनाती की गई है। इसे लेकर उपायुक्त छवि रंजन और एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने सोमवार को संयुक्त आदेश जारी किया है। 17-19 फरवरी तक प्रतिमा विसर्जन और शांतिपूर्ण समाप्ति तक विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर पुलिस बल एवं पुलिस पदाधिकारियों के साथ दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति विभिन्न स्थानों पर की गई है। प्रतिमा विसर्जन और पूजा शांतिपूर्ण समाप्ति तक विधि व्यवस्था और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला के विभिन्न थाना, ओपी क्षेत्र में पुलिस पदाधिकारियों और दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। 22 विभिन्न थाना ओपी क्षेत्र में दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को प्रतिनियुक्त किया गया है। इन सभी को पूर्वाहन 9:00 बजे तक निश्चित रूप से अपनी प्रतिनियुक्ति स्थान पर पहुंचने का निर्देश दिया गया है। सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल को कोविड-19 के दिशा निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है प्रतिमाओं के विसर्जन को लेकर रांची शहर के विभिन्न क्षेत्रों की शोभा यात्राओं के मार्ग निर्धारित कर विधि व्यवस्था के लिए जुलूस एस्कॉर्ट दलों की भी प्रतिनियुक्ति की गई है। प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी को गश्ती करते हुए विधि व्यवस्था और शांति व्यवस्था बनाए रखते हुए प्रतिमा का विसर्जन करवाना सुनिश्चित करने को कहा गया है । संयुक्तादेश में संबंधित थाना प्रभारी को मूर्ति विसर्जन के दौरान गश्ती दल के साथ उपस्थित होकर प्रतिमा विसर्जन दलों को स्कॉर्ट करते हुए विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए निर्देश दिया गया है। अंचल अधिकारी को अपने-अपने अंचलों के थाना प्रभारियों से लगातार संपर्क में रहते हुए प्रतिमा विसर्जन जुलूस के दौरान अपने-अपने क्षेत्रों में गतिशील रहकर विधि व्यवस्था और शांति व्यवस्था बनाए रखने का निर्देश दिया गया है। सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने क्षेत्र में सघन गश्ती करने तथा प्राप्त सूचना पर अपनी वरीय प्रभारी को सूचना देते हुए आवश्यकता अनुसार कार्रवाई करने का निर्देश भी संयुक्त आदेश में दिया गया है। एसडीओ सदर और एसडीओ बुंडू तथा पुलिस अधीक्षक नगर एवं पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अपने-अपने क्षेत्रों में विधि व्यवस्था के संपूर्ण प्रभार में रहेंगे। सुरक्षा बनाए रखने के लिए 600 पुलिस बल की तैनाती की गई है। एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि पूजा को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं ।पर्याप्त संख्या में फोर्स के लगाया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/ विकास-hindusthansamachar.in