मजिस्ट्रेट होने की धौंस पर ठोका 5650 रुपये का जुर्माना

मजिस्ट्रेट होने की धौंस पर ठोका 5650 रुपये का जुर्माना
bullying-of-being-a-magistrate-slapped-a-fine-of-rs-5650

रांची, 07 मई (हि.स.)। रांची के लालपुर थाना क्षेत्र स्थित जेल चौक पर स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के पाबंदी के दौरान बिना वजह निकलने वाले एक कार(जेएच 01 सीजेड-5527) को ट्रैफिक पुलिस ने शुक्रवार को रोका। उसके बाद उसमें सवार कार चालक सुदर्शन नायक ने अपने को मजिस्ट्रेट बताते हुए ट्रैफिक पुलिस पर धौंस दिखाने लगा। जब ट्रैफिक पुलिस ने उससे मजिस्ट्रेट होने का प्रमाण मांगा तो वह प्रमाण नहीं दे सका। उसके कार के आगे नंबर प्लेट के ऊपर सेंट्रल मेंबर, झारखंड स्टेट, एसोसिएशन ऑफ घासी सोससाइटी लिखा हुआ है। इस दौरान वह भगाने का प्रयास करने लगा, भागने के क्रम में उसने एक स्कूटी में धक्का मार दिया। धक्का लगने से स्कूटी सवार बाल-बाल बच गया। बाद में ट्रैफिक पुलिस ने बिना लाइसेंस और पाबंदी के बाद भी किसी संस्था का बोर्ड लगाने , ट्रैफिक नियम का उल्लंघन करने को लेकर 5650 रुपये का जुर्माना लगाया। इधर, कांटाटोली चौक पर तैनात ट्रैफिक पुलिस ने बिना वजह घर से निकले सामलौंग, लाेआडीह निवासी मो लियाकत हुसैन को ट्रैफिक पुलिस ने रोका तो वह ट्रैफिक पुलिस से उलझ गया। काफी समझाने के बाद मामला शांत हुआ। बाद में उस पर जुर्माना करने के बाद उसे छोड़ दिया गया । हिन्दुस्थान समाचार/ विकास