BJPers write a letter to the governor to curb the incidents of rape
BJPers write a letter to the governor to curb the incidents of rape
झारखंड

दुष्कर्म की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए भाजपाइयों ने लिखा राज्यपाल को पत्र

news

रामगढ़, 07 जनवरी (हि.स.) । झारखंड में महिलाओं और युवतियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं पिछले 1 वर्ष में काफी बढ़ गई हैं। हेमंत सोरेन के कार्यकाल में अपराधियों के मंसूबे किस तरह बढ़े हैं, इसकी कलई अपराध के आंकड़े खुद ही खोल रहे हैं। इस मुद्दे पर भाजपा का आंदोलन लगातार जारी है। जिला मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन करने के बाद गुरुवार को भाजपाइयों ने अनुमंडल के समक्ष एक दिवसीय धरना दिया। पार्टी की कैंट मंडल उपाध्यक्ष शीतल सिंह की अध्यक्षता में आयोजित धरना के माध्यम से पार्टी नेताओं ने सीधे राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को पत्र लिखा है। इस पत्र में कहा गया है कि राज्यपाल सीधे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को निर्देश जारी करें। ताकि बलात्कार और हत्या जैसे अपराध पर तत्काल अंकुश लगे। पूरे राज्य में बीते नवम्बर माह तक 1765 महिलाएं व बेटियां दुष्कर्म और हत्या की शिकार हुई है। औसत देखा जाए तो प्रतिदिन 5 बहने हत्या और दुष्कर्म की शिकार हो रही है, जो अत्यंत भयावह है। दुर्भाग्यजनक स्थिति यह है कि इसमें अधिकांश बेटियां आदिवासी और दलित समाज से हैं। तीन दिन पूर्व ओरमांझी में सिर कटी युवती की मिली नग्न लाश ने राज्य की गिरती कानून व्यवस्था की पोल खोल दी है। इस दुर्दांत घटना ने राज्य के आम आदमी को सड़क पर उतरने को विवश कर दिया है। राज्य सरकार घटना के उद्भेदन में अपनी ताकत न लगाकर आम आदमी पर पुलिसिया जुल्म करा रही, जो सरकार की निरंकुशता को दर्शाता है। शीतल सिंह ने कहा कि भाजपा राज्य की हर एक बहन बेटी की सुरक्षा के लिए चिंतित है। सशक्त विपक्ष इस मुद्दे पर आम आदमी की आवाज बना हुआ है। धरना कार्यक्रम में जिला महामंत्री रंजन सिंह, शिव महतो, मनोज गिरी, प्रोफेसर संजय सिंह, ललिता देवी सहित कई लोग मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/अमितेश-hindusthansamachar.in