bjp-leader-started-campaign-to-keep-ramgarh-in-the-cantonment-council-area-itself
bjp-leader-started-campaign-to-keep-ramgarh-in-the-cantonment-council-area-itself
झारखंड

रामगढ़ को छावनी परिषद क्षेत्र में ही शामिल रखने के लिए भाजपा नेता ने शुरू की मुहिम

news

रामगढ़, 08 अप्रैल (हि.स.)। रामगढ़ शहर को छावनी परिषद क्षेत्र में ही शामिल रखने के लिए भाजपा नेता धनंजय कुमार पुटुस अपनी मुहिम शुरू की है। गुरुवार को उन्होंने बयान जारी कर कहा कि छावनी परिषद क्षेत्र को खत्म कर इस शहर को नगर परिषद में शामिल करने के लिए कुछ लोगों के द्वारा प्रयास किया जा रहा है। लेकिन हकीकत यह है कि नगर परिषद में लोगों को काफी परेशानी होगी। धनंजय ने रक्षा मंत्री को एक पत्र भी लिखा है। इसमें कहा गया है कि रामगढ़ शहर को छावनी परिषद क्षेत्र की सूची में ही शामिल रखा जाए। छावनी परिषद से हटने के बाद शहरवासियों पर आर्थिक बोझ बढ़ जाएगा। विगत कई महीनों से छावनी परिषद को समाप्त कर इसे राज्य सरकार द्वारा संचालित नगर निकाय बनाने की बात सामने आ रही है। अन्य नगर निकायों की बद्दतर स्थिति और वहां आम नागरिकों को होने वाली परेशानियों को देखते हुए भाजपा किसान मोर्चा आईटी सेल के झारखंड प्रदेश संयोजक सह रामगढ़ बचओ संघर्ष समिति के केंद्रीय अध्यक्ष धनंजय कुमार पुटूस छावनी परिषद को बचाने के लिए आगे आए हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिख कर छावनी परिषद को समाप्त नहीं करने की अपील की है। रक्षा मंत्री को उन्होंने बताया है कि छावनी परिषद के निर्वाचित वार्ड सदस्यों से उनकी राय ली गई है। साथ ही कमांड स्तर पर छावनी परिषद को हटाये जाने की अनुशंसा की बात भी सामने आ रही है। लेकिन ऐसा होने से यहां की जनता के साथ गलत होगा। वर्तमान में इन क्षेत्रों में सैन्य अधिकारी के अध्यक्ष होने की वजह से साफ-सफाई व अन्य प्रशासनिक स्तर पर बेहतर काम होता है। राज्य सरकार संचालित नगर निकायों में साफ-सफाई व अन्य प्रशासनिक कार्यों की स्थिति काफी दयनीय है, जो साफ नजर आती है। छावनी परिषद के हटने से शहर में साफ सफाई की व्यवस्था लचर हो जाएगी जिसका असर स्वास्थ्य पर पड़ेगा। हिन्दुस्थान समाचार/ अमितेश