फ़्रस्ट्रेशन में बाबूलाल मंरांडी कर रहे हल्की बातें

फ़्रस्ट्रेशन में बाबूलाल मंरांडी कर रहे हल्की बातें
babulal-mandrandi-is-talking-light-things-in-fresnion

रांची, 22 मई (हि. स.)। झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) ने कहा है कि भाजपा विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी हल्की बातें नहीं करें। राज्य सरकार पुलिस अधिकारी रूपा तिर्की के संदेहास्पद मौत के मामले को लेकर गंभीर है। इसके लिए एसआईटी का गठन किया गया है और एसआईटी इसकी जांच कर रही है। झामुमो महासचिव और प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अगर इस जांच से लोगों को संतोष नहीं हुआ और उन्हें कोई संदेह होगा तो इसकी जांच सर्वोच्च एजेंसी से कराई जाएगी। हम इस मामले में किसी भी तरह की कंप्रोमाइज नहीं करेंगे। इसमें कौन दोषी है उसका खुलासा होगा। इसलिए फ़्रस्ट्रेशन में बाबूलाल मरांडी हल्की बात करने से बाज आएं। उन्होंने कहा कि 18 से 45 वर्ष के लोगों को कोविन की वजह से वैक्सीनेशन में दिक्कत हो रही है। लोगों को रांची से दूसरे जिलों में जाकर वैक्सीन लेना पड़ रहा है। इसे लेकर राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है, ताकि रांची के लोगों को रांची में ही वैक्सीन मिल सके। उन्होंने कहा कि पहला डोज राज्य सरकार की ओर से दिया जा रहा है। इसका श्रेय मुख्यमंत्री को जाता है। वैक्सीन सर्टिफिकेट पर सीएम का चेहरा आना चाहिए, इसमें तकलीफ क्या है। उन्होंने कहा कि हम कोरोना महामारी से संघर्ष कर रहे हैं। हम तीसरे वेब और ब्लैक फंगस की चुनौती के लिए तैयार हो रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण

अन्य खबरें

No stories found.