एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाकर सरैयाहाट के लिए किया रवाना

एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाकर सरैयाहाट के लिए किया रवाना
ambulance-flagged-off-for-saraiyahat

दुमका, 22 मई (हि.स.)। पोड़ैयाहाट विधायक प्रदीप यादव एवं डीसी राजेश्वरी बी ने शनिवार को संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखा समाहरणालय भवन से एंबुलेंस को रवाना किया। एंबुलेंस विधायक निधि से उपलब्ध कराया गया है। इससे पूर्व विधायक प्रदीप यादव ने एंबुलेंस की चाभी सिविल सर्जन को सौंपी। इस अवसर पर विधायक प्रदीप यादव ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के कारण राज्य सरकार तथा जिला प्रशासन का पूरा फोकस मेडिकल सेवा में ही है। यह वर्तमान समय के लिए बहुत जरूरी है। सीमित संसाधनों में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने का प्रयास राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन ने किया है। कोरोना संक्रमण को रोकने में काफी हद तक सफल भी हुए है। आज इसकी चर्चा चारों ओर हो रही है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवा का लाभ लेने में आमजनों को कठिनाई नहीं हो, इसे ध्यान में रखते हुए एक जनप्रतिनिधि होने के नाते विधायक मद से दो एंबुलेंस विधानसभा क्षेत्र के लोगों को उपलब्ध कराया है। सरैयाहाट और हंसडीहा के लिए यह एंबुलेंस होगा। एक और एंबुलेंस जल्द ही लोगां के लिए मुहैया करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि वैक्सीन को लेकर कई प्रकार की अफवाहें फैली हुई है। जिसे दूर करने का कार्य किया जा रहा है। सरकार ने 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक के लोगों के लिए भी वैक्सीनेशन का कार्य प्रारंभ कर दिया है। 45 वर्ष से अधिक के लोगों के वैक्सीनेशन का कार्य पूर्व से ही जारी था। साथ ही कहा कि प्रशासनिक अधिकारी लोगों के समक्ष पहुंचकर उन्हें जागरुक करने का कार्य कर रहे हैं। वैक्सीन के प्रति फैला भ्रम जल्द ही दूर होगा। युवाओं में वैक्सीन लेने के प्रति काफी उत्साह है और निश्चित रूप से यह उत्साह दूसरों को भी वैक्सीन लेने के लिए प्रेरित करेगा। उन्होंने कहा कि सरकार लोगों के दर्द को समझती है और उनके समस्याओं पर तुरंत संज्ञान लेते हुए उसे दूर करने का कार्य करती है। कहा कि 26 प्रवासी मजदूर जो नेपाल में फंसे हुए थे। उन्होंने सरकार से अपने घर आने की इच्छा जताई थी। मुख्यमंत्री ने अविलंब उक्त मामले पर संज्ञान लेते हुए आवश्यक कार्रवाई की। डीसी राजेश्वरी बी के निर्देश पर प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए बस भेजा गया है। जल्द ही वे सभी सकुशल अपने घर पहुंचेंगे। प्रवासी मजदूरों को लेकर संवेदनशीलता के साथ सरकार ने पूर्व में भी कई कदम उठाये हैं। जिसकी चर्चा पूरे देश मे हुई है। उन्होंने कहा कि हंसडीहा में सीएसआर निधि से 200 बेड का अत्याधुनिक अस्पताल जल्दी तैयार हो जाएगा। सारी तैयारी कर ली गई है। दुमका के लिए नहीं पूरे संथाल परगना के लिए यह अस्पताल मील का पत्थर साबित होगा। जल्द ही यह अस्पताल आमजनों को सेवा देने के लिए तैयार हो जाएगा। टीका से डरने की जरूरत नहींः डीसी इस अवसर पर डीसी राजेश्वरी बी ने कहा कि कोविड-19 से संक्रमित लोगों की संख्या में लगातार कमी आ रही है। यह साफ दर्शाता है कि जिलावासी लॉकडाउन के गाइडलाइन तथा कोरोना से बचाव के नियमों का पालन कर रहे हैं। लगभग 1000 की संख्या में प्रतिदिन टेस्टिंग और सैंपलिंग की जा रही है। लोगों को अभी भी सतर्कता बरतने की जरूरत है। आमजनों से अपील किया कि टीका से डरने की जरूरत नहीं है। टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि आमजनों के लिए यह समय काफी संघर्षपूर्ण है। लॉकडाउन के कारण कई लोग रोजगार के अभाव में जीवन यापन कर रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा ऐसे लोगों को चिन्हित करते हुए राशन उपलब्ध कराने का कार्य किया जा रहा है। इस मुश्किल घड़ी में सभी को साथ मिलकर कार्य करने की जरूरत है। खुशी है कि जिले के लोग जरूरतमंदो को मदद भी कर रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ नीरज