after-the-death-of-the-girl-in-the-hospital-the-family-members-accused-of-negligence-in-treatment-uproar
after-the-death-of-the-girl-in-the-hospital-the-family-members-accused-of-negligence-in-treatment-uproar
झारखंड

अस्पताल में बच्ची की मौत के बाद परिजनों ने लगाया इलाज में लापरवाही का आरोप, हंगामा

news

रांची, 21 फरवरी (हि.स.)। लोअर बाजार थाना क्षेत्र स्थित सेंटेवीटा अस्पताल में इलाज के दौरान एक नवजात बच्ची की मौत हो गई। बच्ची के परिजनों ने अस्पताल की लापरवाही से बच्ची की मौत होने का आरोप लगाया है। आक्रोशित परिजनों ने रविवार को बच्ची की मौत के बाद जमकर हंगामा किया। घटना की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी सतीश कुमार मौके पर पहुंचे और पीड़ित परिवार से जानकारी हासिल कर लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। मृत बच्ची की नानी शकुंतला सिंह ने बताया कि शुक्रवार की रात उनकी बेटी नेहा सिंह को प्रसव के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। शनिवार की रात नेहा ने डॉक्टर रश्मि राय की देखरेख में एक स्वस्थ बच्ची का जन्म दिया। बाद में उसे डॉक्टर ने चाइल्ड केयर यूनिट में एडमिट किया। शकुंतला सिंह ने बताया कि बच्ची के जन्म होने के बाद मां बच्ची दोनों स्वस्थ थी। रविवार को अचानक अस्पताल कर्मियों ने बताया कि बच्ची की मौत हो गई है। यह सुनते ही परिजनों के होश उड़ गए। परिजनों ने डॉक्टर से संपर्क किया। डॉक्टर ने कहा कि हम बिल्कुल स्वस्थ बच्ची अस्पताल को सौंपे थे। बच्ची की सेहत खराब होने पर शिशु विभाग के चिकित्सक डॉ. अजय कुमार ने जांच की थी। परिजन ने कहा कि रविवार को सुबह 8 बजे ही बच्चे की मौत हो गई थी। बावजूद इसके बच्ची को वेंटिलेटर पर रखा गया था। दोपहर तक अस्पताल के द्वारा यह कहा गया कि बच्ची जिंदा है, जबकि बच्ची का शरीर नीला पड़ चुका था। काफी देर हंगामे के बाद इसकी सूचना पुलिस को दी गई। उन्होंने मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कराया। मामले को लेकर लोअर बाजार थाना प्रभारी सतीश कुमार ने बताया कि नवजात की मौत के बाद परिजनों ने सेंटेवीटा अस्पताल पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। बच्ची के पोस्टमार्टम के बाद ही मामले में कानून के अनुरूप कार्रवाई की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/ विकास