सांसद ने सैनिक कॉलोनी डुमरदगा और सुगनू की समस्या को लेकर रक्षा मंत्री से की मुलाकात
सांसद ने सैनिक कॉलोनी डुमरदगा और सुगनू की समस्या को लेकर रक्षा मंत्री से की मुलाकात
झारखंड

सांसद ने सैनिक कॉलोनी डुमरदगा और सुगनू की समस्या को लेकर रक्षा मंत्री से की मुलाकात

news

रांची, 12 सितम्बर (हि. स.)। रांची के सांसद संजय सेठ ने शनिवार को नई दिल्ली में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने सैनिक कॉलोनी से डुमरदगा से दीपा टोली कैंप में जाने के मार्ग अवरुद्ध होने तथा ग्राम सुगनू को एनएच 33 बुटी जुमार पुल से अनगडा प्रखंड आने जाने के लिए एनएच 75 पुरुलिया रोड तक सड़क निर्माण के संबंध में समस्याओं को रखा। सेठ ने जानकारी देते हुए कहा कि सैनिक कॉलोनी डुमरदगा में अवकाश प्राप्त पूर्व सैनिक वर्षों से रहते आ रहे हैं। इस कॉलोनी में सेना के तीनों अंगों के सैनिक अपने परिवार के साथ निवास करते हैं। पूर्व में सेना द्वारा सैनिक कॉलोनी से कैंप में आने जाने के लिए दो गेट सेना के तरफ से खोले गए थे। एक मार्ग पॉलीक्लीनिक ,तथा दूसरा मार्ग डूमरदगा ग्रामीण बस्ती, के लिए था। नक्शा में डूमरदगा ग्रामीण बस्ती के तरफ जाने का मार्ग अंकित है। इस मार्ग का उपयोग सैनिक और ग्रामीण आने जाने के लिए उपयोग किया करते थे। वर्तमान में दोनों मार्ग सेना द्वारा पूरी तरह बंद कर दिया गया है ।सैनिक कॉलोनी में हजारों की संख्या में अवकाश प्राप्त सैनिक अपने परिवार के साथ रहते हैं। यह मार्ग बंद हो जाने के कारण यहां के लोगों को आने-जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कॉलोनी परिसर में केंद्रीय विद्यालय, बैंक, अस्पताल ,आदि सुविधा है। जिनका उपयोग यहां के लोग करते हैं। मार्ग बंद हो जाने से यहां के लोगों को काफी लंबी दूरी तय कर जाना पड़ता है। अतः जनहित को ध्यान में रखते हुए इसे यथाशीघ्र खोला जाए। डुमरदगा के सुगनू गांव की जमीन सैनिक छावनी विस्तार के लिए अधिग्रहण कर लिया गया है।सुगनू गांव का सड़क सैनिक छावनी के बीचो बीच से होकर गुजरती है। अधिग्रहण के पश्चात ग्रामीणों का रास्ता बंद हो गया है। सड़क बंद हो जाने के कारण सुगनू गांव के ग्रामीणों को आवागमन, व्यपार ,बच्चों की पढ़ाई लिखाई, व आकस्मिक कार्य के लिए बहुत ही परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है । उक्त गांव में जनहित को ध्यान में रखते हुए सड़क का निर्माण कराने के लिए निर्देशित करें ।जिससे ग्रामीणों को आवागमन में सुविधा उपलब्ध हो सके। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण/विनय-hindusthansamachar.in