विकासात्मक योजनाओं में लापरवाही से बिफरे डीडीसी
विकासात्मक योजनाओं में लापरवाही से बिफरे डीडीसी
झारखंड

विकासात्मक योजनाओं में लापरवाही से बिफरे डीडीसी

news

मेदिनीनगर, 18 अक्टूबर (हि.स.)। उप विकास आयुक्त शेखर जमुआर ने रविवार को जिले के तरहँसी, पांकी व पाटन प्रखंड पहुंचकर मनरेगा एवं प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत किये जा रहे विकासात्मक योजनाओं का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण करने के क्रम में उप विकास आयुक्त सर्वप्रथम पाटन पहुंचे जहां उन्होंने प्रखंड में मनरेगा,दीदी बाड़ी योजना,प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण के तहत संचालित विभिन्न विकास योजनाओं की पंचयात वार समीक्षा की। समीक्षा के दौरान डीडीसी ने पाया की पाटन प्रखंड अंतर्गत लोइंगा, महुलिया व पंचकेड़िया पंचायत में आज की तिथि में एक भी मानव दिवस सृजन नहीं हुआ है।इस पर उन्होंने संबंधित पदाधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए कार्य प्रणाली में सुधार लाने की हिदायत दी। उन्होंने पंचायतों में अधिक से अधिक योजनाओं को प्रारंभ करते हुए अभियान के दौरान निर्धारित मानव दिवस के लक्ष्य को पूर्ण करने का निर्देश दिया। इस दौरान उन्होंने नावाखास पंचायत के ग्राम पोखरिया में चल रहे बिरसा मुंडा आम बागवानी योजना स्थल का भी निरीक्षण किया।इस दौरान यहां दीदी बाड़ी योजना का शुभारंभ भी किया गया। निरीक्षण के दौरान डीडीसी ने टाना भगत के परिवारों से भी मुलाकात की।उन्होंने उनसे संवाद स्थापित कर उनकी समस्याओं से रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने पाटन के प्रखंड विकास पदाधिकारी को टाना भक्तों के परिवारों को विभिन्न योजनाओं का लाभ देने हेतु निर्देशित किया। इस दौरान उन्होंने मड़वा पंचायत में मनरेगा अंतर्गत संचालित डोभा,एवं मेड़बंदी के स्थल का भौतिक रूप से निरीक्षण किया। इसके साथ ही नौडीहाबाजार प्रखंड के पंचायत नामुदाग में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के लाभुकों के आवास का भी निरीक्षण किया। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/विनय-hindusthansamachar.in