लॉकडाउन ई पाठशाला के माध्यम से अब आंगनबाड़ी सेविकाएँ करेंगी लोगों को जागरूक
लॉकडाउन ई पाठशाला के माध्यम से अब आंगनबाड़ी सेविकाएँ करेंगी लोगों को जागरूक
झारखंड

लॉकडाउन ई पाठशाला के माध्यम से अब आंगनबाड़ी सेविकाएँ करेंगी लोगों को जागरूक

news

रामगढ़, 05 नवंबर (हि.स.) । कोरोना काल में जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में रह रहे बच्चों को सुविधा पूर्वक शिक्षा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन द्वारा लॉकडाउन ई पाठशाला डीसी रामगढ़ के नाम से यूट्यूब चैनल की शुरुआत की गई थी। इसके माध्यम से जिले के सरकारी विद्यालयों के शिक्षकों द्वारा पाठ्यक्रम के अनुसार अलग-अलग विषयों से संबंधित वीडियो अपलोड किए जा रहे हैं। अब जिले की आंगनवाड़ी सेविकाए भी लॉकडाउन पाठशाला के माध्यम से लोगों को विभिन्न मुद्दों के प्रति जागरूक करेंगी। इसके लिए लॉकडाउन ई पाठशाला के यूट्यूब चैनल पर आंगनबाड़ी सेविकाओं द्वारा भेजे गए वीडियो के लिए अलग से प्लेलिस्ट बनाई जा रही है, जहां पहुंचकर कोई भी व्यक्ति आंगनबाड़ी सेविकाओं द्वारा किए जा रहे कार्यों से संबंधित वीडियो देख सकेंगे। इसी संबंध में जिला समाहरणालय सभागार में आंगनबाड़ी सेविकाओं को उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों से संबंधित वीडियो बनाकर लॉकडाउन ई पाठशाला के यूट्यूब चैनल पर भेजने हेतु प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण के दौरान जिला समाज कल्याण पदाधिकारी एवं एडीएफ सुभ्रा सेन द्वारा व्यक्तिगत रूप से उपस्थित रहकर सेविकाओं को प्रेरित किया गया। तितली अर्ली चाइल्डहुड ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के प्रतिनिधियों द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से महिला सुपरवाइजर्स एवं आंगनबाड़ी सेविकाओं को उनके द्वारा उनके क्षेत्रों में विभिन्न तरह के जागरूकता कार्यक्रमों, स्वास्थ्य सेवाओं, कुपोषण, एनीमिया से बचाव आदि संबंधित विषयों की किस प्रकार से वीडियोग्राफी करनी है तथा उसे संबंधित विभाग तक भेजने के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। हिन्दुस्थान समाचार/ अमितेश / वंदना-hindusthansamachar.in