राजेंद्र बाबू के सपनों का बेरमो चाहिए : हेमंत सोरेन
राजेंद्र बाबू के सपनों का बेरमो चाहिए : हेमंत सोरेन
झारखंड

राजेंद्र बाबू के सपनों का बेरमो चाहिए : हेमंत सोरेन

news

रांची, 14 अक्टूबर (हि. स.)। बेरमो विधानसभा उपचुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवार कुमार जय मंगल उर्फ अनूप सिंह ने बुधवार को नामांकन दाखिल किया। तेनुघाट स्थित सदर अनुमंडल अधिकारी के समक्ष नामांकन दाखिल करने के बाद जैना मोड़ स्थित जरीडीह मैदान में एक विशाल जनसभा का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, खाद्य आपूर्ति एवं वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव, स्व राजेंद्र सिंह की पत्नी रानी सिंह, कुमार जय मंगल, ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, कृषि मंत्री बादल पत्रलेख, मंत्री सत्यानन्द भोक्ता सहित कई विधायक उपस्थित थे। जनसभा में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन और रामेश्वर उराँव का झारखंडी रीति रिवाज से स्वागत किया। मौके पर हेमंत सोरेन ने कहा आज से होने वाले जंग में बिगुल फूंकने के लिए आए बेरमो की जनता को हृदय से जोहार करता हूं। यह चुनाव कोई खुशियों का चुनाव नहीं है, बल्कि यह चुनाव हर दिल में रहने वाले राजेंद्र सिंह के निधन होने के बाद खाली हुई सीट पर नेतृत्व के लिए चुनाव हो रहा है। आपको यह सुनिश्चित करना है राजेंद्र बाबू के सपनों का बेरमो चाहिए या किसानों ,युवाओं, गरीबों, देश को लूटने वाले शक्तियों के हाथों में सत्ता सौंपना है। गठबंधन के साथियों ने मिलकर राजेंद्र सिंह के बड़े पुत्र को उम्मीदवार बनाया है। लेकिन यह आवाज बेरमो की धरती से आई है कि अनूप सिंह को उम्मीदवार बनाया जाना चाहिए। महान विभूतियों की तरह राजेंद्र सिंह की यादें उनकी कर्मभूमि को कभी भुलाया नहीं जा सकता, वह सदा अमर रहेंगे। हेमंत सोरेन ने कहा कि केंद्र की सरकार लगातार झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। पूरे लॉकडाउन के दौरान झारखंड को जो सहायता मिलनी चाहिए थी वह सहायता तो नहीं ही मिली। उल्टे अपने पूंजीपति मित्रों को लाभान्वित करने के लिए झारखंड को इन्होंने निशाने पर रखा। 2016 में जो शिक्षक की बहाली हुई, होमगार्ड के जवान हों,टेट के अभ्यर्थी हों, पारा शिक्षक हों ,जैप के लोग हो, जहां तहां भाजपा ने लोगों को धरने पर बैठने के लिए छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि वह विश्वास दिलाते हैं कि आप चिंता मत करें आपका भाई आपके साथ है। आप थोड़ा धैर्य और विश्वास रखें। आप नाउम्मीद नहीं होंगे वादा करता हूँ। एक बात जरूर याद रखें मोटा मोटा पूंजीपति, बड़ा बड़ा पेट वाला आपके पास आएगा उस पर भी ध्यान रखिएगा। मजदूर के बेटा को भारी मतों से विजय बनाना है और सरकार को ताकत देना है। रामेश्वर उरांव ने कहा कि वह तेनूघाट गये थे, वहां पर उनकी बात कुछ मुखिया,कुछ आंगनवाड़ी सेविका, पारा शिक्षकों, कोयला कर्मियों से बात हुई। लोगों ने बताया हेमन्त सरकार अच्छा काम कर रही है।मुखिया ने कहा कि उन्हें तंग किया गया। आंगनबाड़ी सेविकाओं, पारा शिक्षकों ने कहा हमें पीटा गया। मुखिया ने कहा कि हमारा लोकतांत्रिक अधिकार छीना गया हम पुराने दिन को आने नहीं देंगे। कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने वादा किया है किसानों का कर्ज माफ करेंगे। लोकतंत्र में भी केन्द्र सरकार विश्वास नहीं करती,किसी से पूछती है ना किसी से बात करती ऐसे पार्टी को किसी भी कीमत पर आने नहीं दे सकते। कुमार जय मंगल ने कहा कि आप सभी ने उन्हें अपना आशीर्वाद दे दिया है। यह किसी व्यक्ति की बनाई हुई सल्तनत नहीं है बल्कि बिनदेश्वरी दूबे और राजेंद्र बाबू की सल्तनत है। उन्होंने कहा कि वह जरूर वंशवाद से आते हैं और वह अपने पिता के अधूरे कार्यों का सपना पूरा करने के लिए उनके बीच आये है। जनसभा को मंत्री सत्यानंद भोक्ता, विधायक प्रदीप यादव, रानी सिंह, उमाशंकर अकेला,प्रदीप यादव ने भी संबोधित किया। जबकि जनसभा में दीपिका पांडेय सिंह, राजेश कच्छप,नमन विक्सल कोंगाड़ी,राजेश ठाकुर,आलोक कुमार दूबे,लाल किशोर शाहदेव, राजेश गुप्ता भी उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण/विनय-hindusthansamachar.in