योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन से मॉडल बनेगा मनरेगा पार्क : डीसी
योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन से मॉडल बनेगा मनरेगा पार्क : डीसी
झारखंड

योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन से मॉडल बनेगा मनरेगा पार्क : डीसी

news

खूंटी, 09 अक्टूबर (हि.स.)। जिले के कर्रा प्रखंड अंतर्गत लोयंकेल ग्राम में मनरेगा पार्क का निर्माण किए जाने को लेकर उपायुक्त शशि रंजन ने शुक्रवार को लोयंकेल गांव पहुंचे। यहां उन्होंने निर्माण से संबंधित स्थल का भौतिक निरीक्षण करते हुए आवश्यक बिंदुओं पर चर्चा की। मौके पर उपायुक्त ने मनरेगा पार्क को विकसित करने के लिए बिंदुवार व्यवस्थाओं के लिए संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। स्थल भ्रमण के दौरान उन्होंने कहा कि ग्रामीणों को उद्यान कृषिए फूलों की बागवानीए मत्स्य पालनए मधुमक्खी पालन, उन्नत एवं वैज्ञानिक कृषि और सिंचाई से संबंधित प्रशिक्षण दिलाया जाएगा। उन्हें मनरेगा के तहत शुरू की जाने वाली ऐसी योजनाओं में रोजगार दिया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि ये मॉडल पार्क होगा, जिसमें ग्रामीण विकास से संबंधित योजनाओं के मॉडल प्रदर्शित किए जाएंगे। मनरेगा पार्क ग्रामीणों के लिए एक उदाहरण पेश करेगा तथा उन्हें इससे सीधा लाभ भी मिल सकेगा। इसमें हॉर्टिकल्चर उद्यान कृषि, फ्लोरीकल्चर फूलों की बागवानी, मत्स्य पालन, मधुमक्खी पालन, उन्नत एवं वैज्ञानिक कृषि और सिंचाई के मॉडल रहेंगे। भ्रमण के दौरान उपायुक्त ने मनरेगा पार्क के लिए भविष्य की नीतियों व कार्ययोजनाओं पर मुख्य रूप से चर्चा की। साथ ही यहां मनरेगा अंतर्गत चल रही योजनाओं जैसे टीसीबीए सीपीटी आदि के डेमो-प्लोट के लिए आगे की रणनीति व तत्पर कार्य के लिए कुछ योजनाओं पर भी चर्चा की गई। उन्होंने मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए तालाबों का नवीनीकरण करवाते हुए उसे पुनः सुचारु किए जाने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि जल संरक्षण के उद्देश्यों पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा। उपायुक्त ने वर्षा के पानी को संगृहीत करने के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग इकाई की स्थापना करने एवं पीएचईडी द्वारा पानी की टंकी की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि इन योजनाओं के देखरेख की ज़िम्मेदारी कर्रा आजीविका महिला संकुल संगठन की होगी। साथ ही इससे एसएचजी को जोड़कर उनके विकास की दिशा में भी सार्थक प्रयास सिद्ध हो सकेगा। इसी कड़ी में उपायुक्त ने लतरातु डैम का भ्रमण किया। मौके पर उन्होंने कहा कि लतरातु डैम जिले का आकर्षण केंद्र है। हमारा प्रयास होना चाहिए कि हम लतरातु डैम को पर्यटन स्थल के रूप में उभारें। उन्होंने कहा कि पर्यटकों के लिए इसे और भी आकर्षक बनाने के लिए यहां बोटिंग व अन्य व्यवस्थाएं भी सुनिश्चित कराई जाएंगी। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल/वंदना-hindusthansamachar.in